Home राष्ट्रिय कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर आर्मी चीफ ने की UN की रिपोर्ट...

कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर आर्मी चीफ ने की UN की रिपोर्ट खारिज

445
SHARE

पिछले दिनों संयुक्त राष्ट्र की और से कश्मीर में मानवाधिकार हनन को लेकर जारी की गई रिपोर्ट को आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने खारिज कर दिया है। रावत ने बुधवार को रिपोर्ट को प्रेरित बताया।

चैनल टाइम्स नाउ से बात करते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि भारतीय सेना के मानवाधिकार रिकॉर्ड के बारे में सोचने की जरूरत ही नहीं है। उन्होंने कहा कि न केवल कश्मीर के लोग बल्कि अंतरराष्ट्रीय बिरादरी भी जानती है कि भारतीय सेना का मानवाधिकार रिकॉर्ड सबसे ऊपर है। उन्होंने कहा कि कुछ रिपोर्ट प्रेरित होती हैं और इसपर उन्हें इससे अधिक कुछ कहने की जरूरत नहीं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि पिछले दिनों संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार संस्था OHCHR (ऑफिस ऑफ द यूनाइटेड नेशंस हाई कमिश्नर फॉर ह्यूमन राइट्स) की ओर से 49 पन्नों की रिपोर्ट जारी की है। जिसमे भारत और पाकिस्तान की आलोचना की गई है। साथ ही मानवाधिकारों के उल्लंघन के मामलों की अंतरराष्ट्रीय जांच कराए जाने की भी जरूरत बताई।

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार संस्था के प्रमुख जैद राद अल हुसैन ने ‘जुलाई 2016 से हुई सभी नागरिक मौतों’ की जांच की मांग की है। अल हुसैन ने कहा कि भारत सरकार को जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों द्वारा शक्ति के अत्यधिक इस्तेमाल और पैलेट गनों के इस्तेमाल पर तुरंत रोक लगानी चाहिए।

जैद राद अल हुसैन ने मानव अधिकार परिषद से मांग की है कि कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन की जांच के लिए एक बड़ी अंतरराष्ट्रीय जांच आयोग बनाई जाए।

Loading...