सुपर साइक्लोन में बदला ‘अम्फान’, ओडिशा-बंगाल में एनडीआरएफ की 41 टीम तैनात

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक एम महापात्र ने सोमवार को कहा कि चक्रवाती तूफान अम्फान बहुत प्रचंड है, जो बड़े स्तर पर नुकसान पहुंचा सकता है। उन्होंने एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि अम्फान प्रचंड चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है और 20 मई को पश्चिम बंगाल के दीघा द्वीप और बांग्लादेश के हतिया द्वीपसमूह के बीच दस्तक दे सकता है।

गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से ‘अम्फान’ पर बात की है। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया है कि केंद्र राज्य की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है और पहले से ही एनडीआरएफ की टीमों को तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से भी अम्फान चक्रवात पर बात की और सभी जरूरी तैयारियों की समीक्षा कर इस संकट की घड़ी में उनकी हर संभव सहायता करने का विश्वास दिलाया।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल (एनडीआरएफ) के प्रमुख एसएन प्रधान ने कहा कि एनडीआरएफ की कुल 41 टीमों को ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तैनात किया गया है। ये टीम जागरूकता फैलाने और जानकारियां पहुंचाने के साथ लोगों को बाहर निकालने का काम कर रही हैं। बंगाल में दो टीम बैकअप में हैं। उन्होंने कहा कि हम इस समय दोहरी चुनौती का सामना कर रहे हैं।

प्रधान ने कहा कि हमने अतिरिक्त बैकअप रखा है। एनडीआरएफ की छह बटालियन (11, 9, 1, 10, 4, 5) को इसमें शामिल की हैं। इसमें से 11वीं बटालियन वाराणसी में है, 9वीं पटना में, 1 गुवाहाटी में, 10वीं विजयवाड़ा में, चौथी अरक्कोनम में और 5वीं पुणे में है। उनके पास मिलिट्री एयरपोर्ट है और उन्हें तुरंत लाया जा सकता है। हर बटालियन में चार टीम हैं, ऐसे में हमारे पास 24 अतिरिक्त टीम हैं।

कॉन्फ्रेंस में मौजूद भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के प्रमुख मृत्युंजय महापात्रा ने कहा, यह दूसरा सुपर साइक्लोन 1999 के बाद बंगाल की खाड़ी में बना सबसे तीव्र चक्रवात है। समुद्र में इसकी हवाओं की रफ्तार इस समय 200 से 240 किलोमीटर प्रतिघंटा के बीच है। यह उत्तर-उत्तरीपश्चिमी दिशा में बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा, पश्चिम बंगाल में उत्तरी और दक्षिणी 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिलों की चक्रवात से प्रभावित होने की संभावना है। कोलकाता, हुगली, हावड़ा और पश्चिमी मिदनापुर जिलों को 110-120 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाओं का सामना करना पड़ेगा, 135 किमी प्रति घंटा तक जा सकती है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE