ख्वाजा की शान में हो रही गुस्ताखी, कहां छुप के बैठे है दरगाह सदर अमीन पठान?

सुल्तान ए हिंद ख्वाजा ए गरीब नवाज (रह) की शान में एंकर गुस्ताखी कर रहे है। उनको लुटेरा, आतंकी जैसे शब्दों से अपमानित कर रहे है। वहीं दूसरी और दरगाह कमेटी सदर आमीन पठान ने चुप्पी साध रखी है।

देश भर में अमीश देवगन और उसके चैनल न्यूज़ 18 के खिलाफ सेकड़ों एफ़आईआर दर्ज की जा चुकी है। लेकिन अजेमर दरगाह कमेटी और उसके सदर अमीन पठान ने अब तक न तो कुछ कहा है और नहीं कुछ किया है। उल्लेखनीय है कि अमीन पठन बीजेपी के एक बड़े नेता है। उनका राजनीतिक करियर ख्वाजा साहब की दरगाह के दम पर ही बुलंदियों पर है।

हालांकि अपनी इस राजनीतिक महत्वाकांक्षा के चलते आज वह ख्वाजा साहब के अपमान पर भी खामोश है। वरना सबसे पहले उनकी और से ही अमीश देवगन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाना था। इसके साथ ही वह केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी के भी करीबी है। उन्हे हर स्तर पर इस मुद्दे को उठाना था। लेकिन उन्होने ऐसा नहीं किया।

ऐसे में अब उलेमाओं और कौम को चाहिए कि अमीन पठन से आज ही न केवल दरगाह की सदारत की कुर्सी छीनी जाये बल्कि हज कमेटी सहित कौम के हर ओहदे से हटाया जाये। जो ख्वाजा साहब के अपमान पर कोई कदम न उठा सका उससे कौम के बेहतरी के लिए क्या उम्मीद की जा सकती है।

देश भर के उलेमाओं, दरगाह के ख़ादिमों और कौम के मुअज्जिज लोगों को आगे आकर इस सबंध में फैसला लेना चाहिए। अमीन पठान जैसे हर उस शख्स का सामाजिक बहिष्कार करना चाहिए। जो कौम के रहनुमा बने हुए है। आज इन लोगों की वजह से न केवल हमारे वलियों की शान में गुस्ताखी हो रही। बल्कि पूरी कौम को शर्मसार होना पड़ रहा है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE