AIMIM सांसद इम्तियाज जलील की मांग – बाल ठाकरे के स्मारक की जगह बने अस्पताल

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) सांसद इम्तियाज जलील ने शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे के स्मारक की जगह अस्पताल बनाने की मांग की है।

जलील ने कहा, ”सिडको की जमीन पर अस्पताल का निर्माण बाल ठाकरे को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। अस्पताल का नामकरण उनके नाम पर किया जा सकता है। आम लोगों को स्मारक की बजाय एक अस्पताल की अधिक आवश्यकता है।” बता दें कि महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री और शिव सेना नेता सुभाष देसाई ने स्मारक समेत औरंगाबाद महानगर पालिका परियोजनाओं की समीक्षा की थी।

इससे पहले उन्होने ईद उल अज़हा के त्यौहार पर महाराष्ट्र सरकार के दिशानिर्देशों की भी आलोचना की और मांग की कि इस मौके के लिए अस्थायी बाजार लगाये जाएं। जलील ने कहा कि राज्य सरकार को समझाना चाहिए कि ईद पर ‘‘प्रतीकात्मक’’ कुर्बानी से उसका क्या मतलब है।

जलील ने सवाल किया, ‘‘राज्य सरकार को हमें यह बताना चाहिए कि ‘प्रतीकात्मक’ कुर्बानी से उसका क्या मतलब है। राज्य सरकार अब हमारे त्योहारों को निर्धारित नहीं कर सकती है। इसके अलावा, जब बाकी सभी चीजें अनलॉक हो रही हैं, तो उपासना स्थल अभी भी बंद क्यों हैं?’’

औरंगाबाद पुलिस आयुक्त के साथ बैठक के बाद उन्होंने कहा, ‘‘राज्य सरकार को अस्थायी बाजारों की अनुमति देनी चाहिए। लोग सावधानी बरतेंगे और एकदूसरे से दूरी बनाए रखेंगे।’’

उन्होंने कहा कि सवाल सिर्फ ईद उल अज़हा को लेकर नहीं बल्कि अन्य आगामी त्योहारों को लेकर भी है, त्योहारी मौसम में अल्प अवधि के विक्रेताओं के व्यापार को बढ़ावा देने में मदद मिलती है जो कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के चलते बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE