Home राष्ट्रिय पासपोर्ट विवाद के बाद भगवा ब्रिगेड ने सुषमा स्वराज को लिया निशाने...

पासपोर्ट विवाद के बाद भगवा ब्रिगेड ने सुषमा स्वराज को लिया निशाने पर

1099
SHARE

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ऐसी मंत्री हैं। जिनको अपने काम के लिए पहचाना जाता है। विवादों से दूर रहने वाली सुषमा स्वराज सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा सक्रिय रहती हैं और लोगों की समस्याओं का समाधान करती है।

लेकिन बीते दिनों मुसलमान युवक से शादी करने वाली हिंदू महिला की पासपोर्ट बनवाने में मदद करने के बाद से ही भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सोशल मीडिया पर भगवा ब्रिगेड के निशाने पर है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

भगवा ब्रिगेड ने इस मामले पर विरोध दर्ज करने के लिए सुषमा के आधिकारिक फेसबुक और ट्विटर पेज की रेटिंग घटाना शुरू कर दिया है। फेसबुक पर सुषमा स्वराज के पेज की रेटिंग घटकर 1.4 स्टार हो गई है तो वहीं ट्विटर पर भी उनके पेज की रेटिंग को जबरदस्त झटका लगा है। ट्विटर पर उनकी रेटिंग 3.8 दर्ज की गई है।

एक अभियान के तहत फेसबुक पर सुषमा स्वराज के पेज को नकारात्मक रेटिंग दी जा रही है। बता दें कि फ़ेसबुक पर उनके पेज से जहां क़रीब तीस लाख लोग जुड़े हैं वहीं ट्विटर पर उन्हें लगभग एक करोड़ 18 लाख लोग फॉलो करते हैं।

गौरतलब रहे कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रतन स्कवैयर स्थित पासपोर्ट सेवा केंद्र पर हिन्दू-मुस्लिम दंपती मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी तन्वी सेठ पासपोर्ट बनवाने पहुंचे थे।

लेकिन वहाँ मौजूद पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा ने पासपोर्ट रिन्यू कराने के बदले अनस को धर्मपरिवर्तन कर हिन्दू धर्म अपनाने को कहा। इतना ही नहीं तनवी से सभी दस्तावेजों में अपना नाम बदलने का निर्देश दिया। जब दोनों ने मना कर दिया तो विकास ने उनको अपमानित किया।

हालांकि अब मामला सामने आने के बाद विदेश मंत्रालय ने दाखल दिया। फिर लखनऊ के रीजनल पासपोर्ट ऑफिसर ने कर्मचारी की ग़लती मानी और दंपति को पासपोर्ट जारी कर दिया गया। इतना ही नहीं आरोपी अधिकारी विकास मिश्रा का भी तबादला कर दिया।

Loading...