खुशखबरी: जामिया कोचिंग के 34 छात्रों ने यूपीएससी मेन्स परीक्षा में की कामयाबी हासिल

नई दिल्ली: जामिया मिलिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) के 34 छात्रों ने सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा उत्तीर्ण की है और अब वे सिविल सेवा (साक्षात्कार) परीक्षा 2020 के लिए योग्य हैं।

जामिया हमदर्द के आवासीय कोचिंग अकादमी (JHRCA) के आठ छात्रों ने भी उपरोक्त परीक्षा में कामयाबी हासिल की है।

जामिया मिलिया इस्लामिया के एक बयान के अनुसार, आरसीए योग्य छात्रों के लिए “वरिष्ठ / सेवानिवृत्त नौकरशाहों और शिक्षाविदों की मदद से” मॉक इंटरव्यू और इंटरैक्टिव सत्रों की एक श्रृंखला आयोजित करेगा।

पिछले साल आरसीए के 30 छात्रों को आखिरकार सिविल सेवा परीक्षा में चुना गया था।

2020-2021 में आरसीए के कुल 35 छात्रों को विभिन्न राज्य सार्वजनिक सेवाओं जैसे जम्मू-कश्मीर, बिहार, यूपी, महाराष्ट्र, कर्नाटक और अन्य संगठनों जैसे आईबी, सीएपीएफ, आरबीआई और अन्य में चुना गया है।

देश की प्रमुख सिविल सेवाओं के लिए उम्मीदवारों का चयन करने के लिए सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन तीन चरणों में किया जाता है – प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार।