जालंधर: कोरोना से पीड़ित एक शख्स से 6 दिन में 21 लोग हुए संक्रमित

देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है। लेकिन लोग अब इसकी भयावता को नजरअंदाज कर रहे है। कोरोना की भयावता का अंदाजा इस खबर से बखूबी लगाया जा सकता है।

जानकारी के अनुसार, पंजाब के जालंधर में एक शख्स ने 6 दिन में 21 लोगों को इससे संक्रमित कर दिया। 18 मार्च को के नवांशहर में कोरोना वायरस से मरने वाले शख्स 70 साल के बलदेव सिंह ने 6 दिन में ही 21 लोगों को कोरोना संक्रमण से पीड़ित कर दिया।

नवांशहर के पठलावा में जर्मनी से वाया इटली लौटे बलदेव सिंह की 18 मार्च को मौ’त हो गयी थी लेकिन जो भी इनके संपर्क में आया उनमें से कई कोरोना पॉजिटिव हो गए। मंगलवार को मिले 3 नए मामलों में से 2 बलदेव सिंह का पोता और दोहता हैं। अभी तक जिले में मिले सभी मामले मृत’क बलदेव सिंह से ही संबंधित हैं।

21 मार्च को बलदेव सिंह के 3 बेटे, 2 बेटियों 1 पोती और 1 साथी को कोरोना पॉजिटिव होने का पता चला। जबकि 22 मार्च को 2 बहुओं, 2 पोतियों, 2 साथियों और सरपंच को कोरोना पीड़ित होने का पता चला। 23 मार्च को पोते के कोरोना पीड़ित होने का पता चला और 24 मार्च को 1 दोहते, 2 पोते, 1 साढ़ू, साढ़ू के बेटे और सलहज के कोरोना पॉजिटिव होने का पता चला है।

यहां इस बात पर भी गौर करना होगा कि कैसे इस वायरस की चेन बनती गई और लोग संक्रमित होते गए। 3 दिन में पीड़ितों की संख्या 8 गुना, 5 दिन में 16 गुना और 6 दिन में 22 गुना हो गयी। इतना ही नहीं 70 साल के बलदेव सिंह ने अपनी मौत से कुछ दिन पहले ही आनंदपुर साहिब में होला मोहल्ला में भी शिरकत की थी।

रूपनगर के सीनियर सुपरिंटेंडट ऑफ पुलिस स्वप्न शर्मा के अनुसार बलदेव सिंह दो हफ्ते के जर्मनी दौरे से वाया इटली होते हुए पंजाब आए थे। वो आनंदपुर साहिब में 8 से 10 मार्च तक रुके फिर बस से घर गए और छह दिन बाद उनकी मौ’त हो गई।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE