पीएम केयर्स फंड से खरीदे गए 1,800 वेंटिलेटर कर्नाटक में नहीं आए किसी काम, वजह परेशान कर देने वाली

कर्नाटक के अस्पताल वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं, केंद्र सरकार से प्राप्त 1,800 वेंटिलेटर अप्रयुक्त पड़े हैं। पिछले साल पीएम केयर्स फंड के तहत कोवि’ड प्रभावित राज्य को दिए गए 3,200 वेंटिलेटर में से अब तक केवल 1,400 का उपयोग किया गया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि पहली लहर के बाद लगभग 2,000 वेंटिलेटर प्राप्त हुए और शेष संख्या दूसरी लहर के दौरान भेजी गई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल राज्य में दूसरी लहर आने तक केवल 150 वेंटिलेटर का इस्तेमाल किया गया था। शेष 1,400 वेंटिलेटर पिछले कुछ महीनों में ही अस्पतालों में वितरित किए गए।

शेष 1,800 वेंटिलेटर अस्पतालों में काम करने के लिए तकनीशियनों, डॉक्टरों, एनेस्थेटिक्स और नर्सों सहित कुशल कर्मचारियों की कमी के कारण बेकार पड़े थे। कुछ अन्य तकनीकी खराबी के कारण खराब हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि कर्नाटक में सक्रिय को’विड ​​​​-19 मामलों की कुल संख्या चार लाख से नीचे आ गई गई। राज्य में शुक्रवार को 22,823 नए मामले और 401 मौ*तें हुईं। जबकि अब तक संक्रमणों की कुल संख्या 25,46,821 है।