महाराष्ट्र में सड़कों पर फिर उतरे हजारों प्रवासी मजदूर, लॉकडाउन तोड़ किया जमकर हंगामा

मुंबई। महाराष्ट्र के चंद्रपुर में करीब 1,000 प्रवासी मजदूर शनिवार को सड़कों पर उतर आए और घर भेजने की मांग को लेकर जमकर बवाल काटा।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि बल्लारपुर जिले में यह घटना शनिवार सुबह साढ़े नौ बजे घटी। उन्होंने कहा, ‘एक हजार से ज्यादा मजदूर जो ज्यादातर सरकारी मेडिकल कॉलेज में एक निर्माण स्थल पर रह रहे हैं, सड़कों पर उतर आए और मांग करने लगे कि उन्हें उनके गृह राज्यों में वापस भेजने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने राजमार्ग को अवरुद्ध करने की कोशिश की और रेलवे स्टेशन की ओर चलना शुरू कर दिया।’

अधिकारी ने कहा, ‘मजदूर उत्तर प्रदेश और बिहार में स्थित अपने गृहनगर वापस जाना चाहते हैं।’ कुछ मजदूर पश्चिम बंगाल से भी हैं। उनका कहना है कि लॉकडाउन की वजह से उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि उनकी आय के साधन खत्म हो गए हैं। हालांकि पुलिस ने उन्हें खाना दिया।

उन्होंने बताया कि बाद में मजदूर अपने स्थानीय निवास की ओर लौट गए। सूचना मिलने पर रामनगर पुलिस स्टेशन के कर्मी घटनास्थल पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लाया गया। अधिकारी ने कहा, ‘पुलिस कर्मचारियों ने मजदूरों से कहा कि यदि वे अपने गृह राज्यों को लौटना चाहते हैं तो उसके लिए विशेष प्रक्रिया का पालन किया जाएगा क्योंकि विशेष गाड़ियों की व्यवस्था की जा रही है।

उन्हें विशेष ट्रेनों में जगह दिए जाने के लिए आवेदन फॉर्म भरने के लिए कहा गया।’ अधिकारी ने बताया कि उन्हें भोजन मुहैया कराया गया और बाद में श्रमिक अपने स्थानीय आवास पर लौट गए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE