Home महाराष्ट्र औरंगाबाद: दंगाइयों ने जलाई थी दुकान, AIMIM ने फिर से बनवाया

औरंगाबाद: दंगाइयों ने जलाई थी दुकान, AIMIM ने फिर से बनवाया

406
SHARE

पिछले महीने की 11 मई को कथित तौर से पानी के विवाद को लेकर महाराष्ट्र के औरंगाबाद में भड़की हिंसा में दंगाइयों ने हिन्दू-मुस्लिम व्यापारियों की 22 दुकानों को क्षतिग्रस्त कर दिया था.

ऐसे में अब असदुद्दीन औवेसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलेमीन (AIMIM) ने दंगे की चपेट में आईं इन सभी 22 दुकानों का पुनर्निर्माण कराया। इतना ही नहीं AIMIM के विधायक इम्तियाज़ जलील ने स्थानीय नागरिकों सहित सभी धर्मों के लोगों और उन दुकानदारों को आमंत्रित करके एक एक इफ्तार पार्टी का आयोजन किया और उसके बाद इन दुकानों को दुकानदारों को सौंप दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मौके पर मजलिस विधायक इम्तियाज़ जलील ने का बताया कि हमने अपना वादा निभाया है, और साथ ही सभी धर्मों के लोगों के साथ इफ्तार करके दुकानदारों को दुकानें सौंप कर सौहार्द की मिसाल क़ायम की है।

बता दें कि इस हिंसा में 2 लोग मारे गए थे और पुलिस कर्मियों सहित दर्जनों घायल हुए थे. सांप्रदायिक हिंसा शहर के गांधीनगर, राजाबाजार और शाहगंज इलाकों में फैली थी.  हिंसा में मारा गया नाबालिग मोहम्मद हारिस दसवीं क्लास में पढ़ता था. परिजनों के अनुसार, उनका बेटा गोलीबारी में मारा गया था.

Loading...