UAE ने इस देश के लिए तोहफ़े में खुलवाए दो अस्पताल, साथ ही किया बड़ा ऐलान

खलीफा बिन जायद अल नाहयान फाउंडेशन के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमालीलैंड गणराज्य में दो अस्पताल खोले हैं। पहला, “शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान अस्पताल” है, जो उत्तर-पश्चिमी सोमालिया के बेरबेरा शहर में स्थित है, और दूसरा, महिलाओं के लिए एक विशेष अस्पताल है, जो यहां के दूसरे सबसे बड़े शहर बुराओ में खोल गया है।
यह कदम राष्ट्रपति हिज हाइनेस शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान के निर्देशों व अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और यूएई सशस्त्र बलों के उप-सर्वोच्च कमांडर हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के समर्थन से उप प्रधान मंत्री, राष्ट्रपति के मामलों के मंत्री और फाउंडेशन के अध्यक्ष हिज हाइनेस शेख मंसूर बिन जायद अल नाहयान द्वारा संपादित किया गया है।

यह खलीफा बिन जायद अल नाहयान फाउंडेशन द्वारा कार्यान्वित – यूएई की मानवीय पहल का हिस्सा है, जो वंचित लोगों की पीड़ा को कम करता है। खासकर कोविड-19 के मद्देनजर सोमालीलैंड में स्वास्थ्य क्षेत्र की चुनौतियों को देखते हुए यह महत्वपूर्ण है। बरबेरा के अस्पताल का उद्घाटन सोमालीलैंड के उपाध्यक्ष अब्दिरहमान सयाली ने किया। इस दौरान दोनों पक्षों के वरिष्ठ अधिकारी व सोमालीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री उपस्थित थे।

शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान अस्पताल में 40-बेड की क्षमता है, जिसका कुल क्षेत्रफल 1,351 वर्ग मीटर है। इसमें एक स्वागत कार्यालय, एक ऑपरेटिंग कमरा, आठ रोगियों के लिए कमरे, छह क्लीनिक, एक दंत चिकित्सा क्लिनिक और तीन महत्वपूर्ण देखभाल कक्ष शामिल हैं, साथ ही एक आपातकालीन कक्ष भी शामिल है। अस्पताल आधुनिक चिकित्सा उपकरणों और एक बैकअप जनरेटर से भी सुसज्जित है।
दूसरे अस्पताल में, जिसमें 40-बेड की क्षमता है, का उद्घाटन यूएई के प्रतिनिधिमंडल और सोमालीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री द्वारा किया गया। स्वास्थ्य मंत्री ने परियोजना के वित्तपोषण के लिए यूएई नेतृत्व को धन्यवाद दिया, कहा कि यह महिलाओं और नवजात शिशुओं को प्रदान की जा रही स्वास्थ्य देखभाल में काफी सुधार करेगा।