कतर में 4 साल की भारतीय बच्‍ची की मौ’त, स्‍कूल बस में लॉक होने से घुटा दम

0
158

खाड़ी देश कतर में एक भारतीय छात्र की मृ’त्‍यु की खबर ने हर किसी को चौंका दिया है। रविवार को इस बच्‍ची का जन्‍मदिन था और इस तरह की घ’टना हुई है। इस घट’ना पर अभी तक स्‍कूल अथॉरिटीज की तरफ से कोई बयान नहीं आया है।

कतर में एक बार भारतीय छात्रा की मौ’त से हड़’कंप मच गया है। रविवार 11 सितंबर को इस बच्‍ची का जन्‍मदिन था और उसके ऐसे जाने से घर पर मा’तम का माहौल है। बताया जा रहा है कि यह बच्‍ची स्‍कूल बस में ही सो गई थी और बहुत ज्‍यादा गर्मी होने की वजह से इसकी मौ’त हो गई है। बस को पार्क कर दिया गया था और यह बच्‍ची बस में सोती रह गई और बस स्‍टाफ की नजर इस पर गई ही नहीं। जिस बच्‍ची की मौ’त हुई है वह केरल की रहने वाली है। इसकी उम्र चार साल थी और अल वाकरा के स्प्रिंगफील्‍ड किंडरगार्टन स्‍कूल में पढ़ती थी।

विज्ञापन


बच्‍ची का नाम मिनसा मरियम था और स्‍थानीय मीडिया की मानें तो बस के ड्राइवर और अटेंडेंट ने उस समय लड़की को देखा जब वह चार घंटे के बाद लौटे। गल्‍फ टाइम्‍स के मुताबिक मिन्‍सा अभिलाष चाको और सौम्‍या की दूसरी बेटी थी। इस बच्‍ची रिश्‍तेदार कोट्टयम के छिनगवानम में रहते हैं। उन्‍होंने बताया कि जब क्‍लास खत्‍म हो गई तो दोपहर में ड्राइवर और कंडक्‍टर बच्‍चों को स्‍कूल ड्रॉप करने के लिए आए। इसी समय उन्‍होंने मिनसा को बेहोशी की हालत में देखा।

मिनसा को तुरंत वकरा अस्‍पताल ले जाया गया लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। वकरा हॉस्पिटल का कहना है कि जान बचाने की सारी कोशिशें नाकाम रह गईं। कतर ट्रिब्‍यून ने जानकारी दी है कि कतर में इस समय तापमान 36 से 43 डिग्री सेंटीग्रेट बना हुआ है। इस बीच कतर के शिक्षा मंत्रालय की तरफ से ट्विटर हैंडल पर बच्‍ची के नि’धन पर शो’क जताया गया है। मंत्रालय ने कहा है कि घ’टना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। मंत्रालय सभी संबधित अथॉरिटीज के साथ मिलकर काम कर रही है और इस केस में दो’षियों को ज्‍यादा से ज्‍यादा स’जा दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here