No menu items!
21.1 C
New Delhi
Tuesday, October 19, 2021

एक और इस्लामिक ऐप अवै’ध रूप से फ्रांसीसी अधिकारियों को डेटा बेचती पकड़ी गई

जांच के मुताबिक़, सलात ऐप आईओएस पर पहले उपलब्ध था, लेकिन इसने प्रेडियो को कोई डेटा नहीं बेचा। ऐप ने यह उल्लेख नहीं किया है कि उसके उपयोगकर्ताओं के स्थान डेटा को बेचने का मतलब है कि जिन लोगों ने इसे स्थापित किया है, उन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है, जैसा कि वाइस द्वारा रिपोर्ट किया गया है।

मुस्लिम समर्थक नामक एक अन्य ऐप ने भी अपना डेटा एक्स-मोड सोशल को बेच दिया था, जिसने अपने उत्पादों को ठेकेदारों की मदद से अमेरिकी सेना को बेच दिया था।

ये एजेंसियां ​​उपयोगकर्ताओं को ट्रैक करने के लिए स्थान का इस्तेमाल कर सकती हैं अगर उनके पास गल’त काम का कोई संदेह है। हालांकि, इसका पहलू मुसलमानों को निरंतर निगरानी में रखना है। कई देशों में, अमेरिका में मुस्लिम आबादी भी पिछले कुछ वर्षों में, विशेष रूप से सीरिया में आईए’सआईए’ स के उभार के बाद, प्रचलित हुई है।

लीक हुए डेटासेट में उपयोगकर्ताओं के सटीक अक्षांश और देशांतर, टाइमस्टैम्प फोन मॉडल, आईपी पता और ऑपरेटिंग सिस्टम के अलावा विज्ञापन आईडी भी थे। यह एजेंसियों को उपयोगकर्ताओं को लक्षित करने और उनके हर एक काम की निगरानी का पालन करने की अनुमति देता है।

इस एप में अलग-अलग वाइस जांच के अनुसार, Google और Apple ने अपने मोड से एक्स मोड को प्र’तिबंधि’त कर दिया है ताकि स्वतंत्र वाइस की जांच की जा सके।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
2,984FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts