सऊदी अरब की बड़ी मुसीबत – UN ने मांगा शहजादी बासमा के जिंदा होने का सबूत

हिरा’सत में ली गई सऊदी राजकुमारी बासमा बिंत सऊद के परिवार वालों ने सोमवार को संयुक्त राष्ट्र में अपील दायर कर अनुरोध किया कि विश्व संस्था उनके मामले में हस्तक्षेप करे और सऊदी अधिकारियों से इस बात का सबूत मांगे कि वह जीवित है।

मानवाधिकार परिषद में संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों के साथ अपील दायर की गई, जिसमे कहा गया कि राजकुमारी बासमा जिसे उनकी बेटी सुहौद अल-शरीफ के साथ एक साल से अधिक समय तक इनकंपनीडो में रखा गया था। यात’ना की शिकार हो सकती है”।

शिकायत में कहा गया, “वास्तविक और गंभीर चिंताएं हैं कि राजकुमारी बासमा और सुहौद को मनमाने ढंग से हिरा’सत में लिया गया है, ऐसी परिस्थितियों में जो जीवन के लिए गंभीर जोखिम पेश करते हैं, उन्हें निष्पक्ष परीक्षण के अधिकार से वंचित कर दिया गया है, और उनके इलाज में या’तना और दुर्व्य’वहार हो सकता है।”

आरोप है कि प्रिंस, मोहम्मद बिन सलमान के खिलाफ बोलने के कारण “राजकुमारी बासमा और उनकी बेटी” को निशाना बनाया गया। बासमा को मार्च 2019 में सऊदी अरब के जेद्दा में उनके घर से ले जाकरबेटी सुहौद के साथ कैद कर लिया गया था।

पिछले साल संयुक्त राष्ट्र को लिखे एक पत्र में, अंतरराष्ट्रीय निकाय के सऊदी मिशन ने कहा कि बासमा पर अवैध रूप से देश छोड़ने का प्रयास करने का आरोप लगाया गया है, जबकि सुहौद को “एक एजेंट पर हम’ला करने के अप’राध” के लिए गिर’फ्तार किया गया था।