कोरोना संकट के तहत यूएई ने भेजी नेपाल को बड़ी मेडिकल सहायता

दुबई: यूएई सरकार ने कोरोवायरस वायरस की महामारी के खिलाफ देशों के प्रयासों में मदद करने के लिए फिलीपींस और नेपाल को अलग से सहायता योजनाएं भेजी हैं।

समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम की रिपोर्ट के अनुसार, राहत उड़ानों में से प्रत्येक में सात मीट्रिक टन मेडिकल आपूर्ति होती है, जो फिलीपींस और नेपाल में लगभग 7,000 मेडिकल फ्रंटलाइनरों की सहायता करेगी।

फिलीपींस में यूएई के राजदूत हमाद सईद हमद ओबैद अलज़ायदी ने कहा, “हमारे दो देश हमारी सरकारों और लोगों के बीच एक गहरी साझेदारी साझा करते हैं, और यह हमारी ईमानदारी की आशा है कि ऐसी सहायता से COVID-19 के खिलाफ फिलीपींस खुद को बचाने के लिए आवश्यक कार्रवाई कर सके।”

यूएई ने अब तक 32 से अधिक देशों को 334 मीट्रिक टन से अधिक सहायता प्रदान की है, इस प्रक्रिया में लगभग 334,000 चिकित्सा पेशेवरों का समर्थन किया है।

बता दें कि  नेपाली स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से गुरुवार रात जारी आँकड़ों के मुताबिक़ नेपाल में 48 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। नेपाल में अभी तक कोरोना वायरस से किसी की मौ’त नहीं हुई है और 10 लोग इलाज के बाद ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं।

नेपाल में कोरोना का जो सबसे पहला मामला सामने आया था, वो 81 साल की एक महिला का था. ये संक्रमित महिला ब्रिटेन से लौटी थीं। उनका 58 साल का बेटा भी कोरोना संक्रमित मिला था। हालांकि ये दोनों इलाज के बाद ठीक होकर गुरुवार को घर लौट गए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE