No menu items!
8.1 C
New Delhi
Friday, January 28, 2022

UAE ने अशरफ़ गनी को अफगान राजनीति में भाग लेने से प्रतिबंधित किया: तालिबान

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी को निर्वासन से राजनीतिक गतिविधियों को जारी रखने से रोक दिया गया है, मेजबान देश, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के साथ, उन अधिकारियों पर भी समान प्र’तिबंध लगा रहा है जो अराजक संयुक्त राज्य के सैनिकों की वापसी और सत्ता परिवर्तन के दौरान अफगानिस्तान से भाग गए थे।

तालिबान के उप प्रवक्ता अहमदुल्लाह वसीक ने रविवार को कहा कि यूएई ने अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद दुबई में बसे गनी और निर्वासन में रह रहे अन्य अफगान अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया, जिससे उन्हें उनके राजनीतिक मंच पर कोई भूमिका निभाने से रोका गया।

वसीक ने एक ट्विटर पोस्ट में कहा कि गनी के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हमदुल्ला मोहिब और बलिख प्रांत के गवर्नर अत्ता मुहम्मद नूर भी सूची में हैं।

उन्होंने लिखा, “यूएई ने दुबई और अन्य शहरों में रहने वाले अशरफ गनी के प्रशासन के सभी अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस प्रतिबंध में अशरफ गनी, अट्टा नूर और मोहिब शामिल हैं।” अबू धाबी ने रिपोर्ट की पुष्टि नहीं की और न ही इस मामले पर कोई टिप्पणी दी।

गनी को अफगान राजनीति में शामिल होने से प्रति’बंधित करने का नवीनतम कदम उन रिपोर्टों के बाद आया है कि तालिबान और यूएई ने गुप्त वार्ता की थी, जिसके दौरान अबू धाबी ने कथित तौर पर काबुल हामिद करजई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को चलाने की अपनी इच्छा की घोषणा की थी।

खाड़ी क्षेत्र में स्थित विदेशी राजनयिकों ने रायटर को बताया कि संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों ने हवाई अड्डे के संचालन पर चर्चा करने के लिए हाल के हफ्तों में समूह के साथ कई चर्चाएं की हैं, जो दुनिया के लिए अफगानिस्तान के मुख्य हवाई लिंक के रूप में कार्य करता है। कई विदेशी राजनयिकों ने खुलासा किया कि अमीरात अफगानिस्तान में अधिक प्रभाव की मांग कर रहे हैं, दूसरे स्थान पर कतर और तुर्की को स्थानांतरित कर रहे हैं, जो वर्तमान में हवाई अड्डे पर सुरक्षा प्रदान करते हैं और इसे नियंत्रित करते हैं।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
3,141FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts

error: Content is protected !!