एर्दोआन बोले – तुर्की ने इदलिब में स्थायी संघर्ष विराम सुनिश्चित करने का प्रयास किया

राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोआन ने बुधवार को कहा कि तुर्की सीरिया के उत्तर-पश्चिमी इदलिब प्रांत में एक स्थायी संघर्ष विराम सुनिश्चित करने के लिए प्रयास कर रहा है और रूस से उल्लंघन का पता लगाने की उम्मीद करता है। उन्होने कहा, अगर वादे नहीं किए जाते हैं तो अंकारा क्षेत्र में आगे सैन्य अभियान करने में संकोच नहीं करेगा।

अंकारा में न्याय और विकास पार्टी (एके पार्टी) की संसदीय समूह की बैठक में उन्होने कहा, “यदि सीरियाई शासन और रूस संघर्ष विराम के अपने वादों को निभाने में विफल रहते हैं, तो हम उनके खिलाफ आवश्यक कदम उठाने में संकोच नहीं करेंगे। क्षेत्र में तुर्की पोस्टों की सुरक्षा अभी हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है।”

एर्दोआन ने उल्लेख किया कि तुर्की का लक्ष्य सीरिया के इदलिब में अस्थायी संघर्ष विराम को स्थायी बनाना है और यदि संघर्ष विराम को जारी नहीं रखा गया तो वह इस क्षेत्र में आगे के सैन्य अभियानों से नहीं कतराएगा। ताल रिफ़ात क्षेत्र में तुर्की के सैनिकों के खिलाफ वाईपीजी / पीकेके आतं’वादियों द्वारा बढ़ते हम’लों को लेकर एर्दोआन ने कहा कि सेना आतं’कवादियों को जहाँ भी ढूंढती है, उन्हें समाप्त कर देती है।

उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि अंकारा उत्तर-पश्चिमी सीरिया में सुरक्षा, सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सभी प्रयासों का वास्तव में समर्थन करना जारी रखेगा। उन्होंने कहा कि तुर्की ने इस क्षेत्र में संघर्ष विराम लागू करने को स्वीकार कर लिया है क्योंकि असद शासन और आतं’कवादियों से नहीं लड़ सकता है।

सीरिया में बढ़ते संघर्ष को रोकने के लिए वार्ता के बाद पिछले सप्ताह मास्को में संघर्ष विराम हुआ था। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और एर्दोआन के बीच एक साल में यह 10 वीं बैठक थी। राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि जब तक यूरोपीय संघ अपनी प्रतिज्ञाओं को पूरा नहीं करता, तब तक तुर्की यूरोप तक पहुंचने की कोशिश कर रहे प्रवासियों के लिए सीमा को खुला रखेगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]