Home अन्तर्राष्ट्रीय मस्जिदें बंद करने को लेकर ऑस्ट्रिया के फैसले पर भड़का तुर्की

मस्जिदें बंद करने को लेकर ऑस्ट्रिया के फैसले पर भड़का तुर्की

281
SHARE
Symbolic

ऑस्ट्रिया ने विदेश से आर्थिक मदद लेने के कारण देश की सात मस्जिदों को बंद करने और इमामों को निलंबित करने की घोषणा की है। ऑस्ट्रिया के चांसलर सेबास्टियन कुर्ज़ ने कहा कि ये कार्रवाई मस्जिदों के राजनीतिक इस्तेमाल के ख़िलाफ़ की जा रही है।

ऐसे मे तुर्की आस्ट्रिया के फ़ैसले पर भड़क उठा है। तुर्की के विदेशमंत्री “चावूश ओग़लू” ने कहा है कि आस्ट्रिया के चांसलर की ओर से कुछ मस्जिदों को बंद करने का फै़सला, इस्लाम दुश्मनी का परिचायक है। उन्होंने कहा कि इस्लाम विरोधी और जातिवादी नेता, यूरोप को ख़तरनाक खाई की ओर ले जा रहे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तुर्की के विदेश मंत्रालय के मुताबिक, हम ऑस्ट्रिया के नेताओं, विशेष रूप से चांसलर सेबास्टियन क्रूज की नस्लवाद, इस्लामोफोबिया और जिनोपोबिया से निपटने के बजाए इससे राजनीतिक हित साधने के कदम की निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि ये हरकतें इस्लाम से डर पैदा करने वाली, नस्लीय हिंसा और भेदभाव से भरी है।

वहीं तु्र्की के उप प्रधानमंत्री ने आस्ट्रिया के इस फ़ैसले को यूरोप में धर्म की मौत की संक्षा दी है।  तु्र्की के धार्मिक मामलों के राष्ट्रीय संघ के प्रखमु अली अरबाश ने कहा है कि आस्ट्रिया में सात मस्जिदों को बंद करने पर आधारित फै़सला, मानवाधिकारों और धार्मिक स्वतंत्रता का विरोधी होने के साथ ही एक बहुत बड़ी ग़लती है।

इसके अलावा तुर्की के राष्ट्रपति रिचप तैय्यप अर्दोआन के प्रवक्ता इब्राहीम कालिम ने ट्विटर पर लिखा, “ओछी राजनीति के लिए मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है”

Loading...