तुर्की को मिला प्राकृतिक गैस का खजाना, एर्दोगान बोले – बदल देंगे अब देश की किस्मत

तुर्की के राष्‍ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान ने शुक्रवार को बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि तुर्की ने काले सागर में अब तक का सबसे बड़ा प्राकृतिक गैस का भंडार ढूंढ निकाला है। जो देश की किस्मत को बदल कर रख देगा। राष्ट्रपति ने कहा है कि खोजे गए प्राकृतिक गैस रिजर्व की मात्रा 320 बिलियन क्यूबिक मीटर है।

राष्‍ट्रपति ने कहा कि इस प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन वर्ष 2023 से होने लगेगा। अर्दोआन ने कहा, हमारा लक्ष्य काले सागर से गैस निकालकर 2023 तक इसके इस्तेमाल करने का है। इस खोज के बाद अब तुर्की की गैस के लिए विदेशी निर्भरता और कम हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि तुर्की को भी पूर्वी भूमध्यसागर से ‘ख़ुशख़बरी’ की उम्मीद है। इस जगह पर भी तुर्की गैस की खोज कर रहा है। उन्होने आगे कहा, हम अपने देश के ऊर्जा मुद्दे को पूरी तरह से हल करने के लिए दृढ़-संकल्प हैं। हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक हम ऊर्जा के शुद्ध निर्यातक नहीं बन जाते।

तुर्की का ड्रिलिंग शिप फेथ जुलाई से ही खुदाई जोन में लगा हुआ था। इसे टूना-1 नाम दिया गया है। यह काला सागर में तुर्की के तट से 100 नॉटिकल मील दूर स्थित है। तुर्की के वित्त मंत्री बेरात अलबायराक ने कहा कि सरकार को उम्मीद है कि प्राकृतिक गैस के इस भंडार से तुर्की का चालू खाता घाटा खत्म हो जाएगा।

तुर्की के ऊर्जा मंत्री फेथ डोनमेज ने कहा कि गैस की यह खोज नौंवी बार खुदाई के बाद हुई है। उन्‍होंने कहा, ‘वैज्ञानिक डेटा से यह पता चलता है कि इसी तरह के भंडार की दो और परत नीचे है। अभी हम 3500 मीटर की गहराई में हैं और दूसरे महत्‍वपूर्ण रिजर्व को काटा है।’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE