No menu items!
26.1 C
New Delhi
Sunday, October 17, 2021

ग्रेटा थुनबर्ग ने अमेरिकी कांग्रेस से कहा – जलवायु पर ‘सही काम करने का समय’

स्वीडिश जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थुनबर्ग ने अमेरिकी सांसदों को गुरुवार को चेतावनी दी कि यदि वे बहुत देर हो जाने से पहले जीवाश्म ईंधन उद्योग को सब्सिडी देना बंद नहीं करते हैं तो इतिहास उन्हें जलवायु आपदाओं के लिए जिम्मेदार ठहराएगा।

18 साल की थुनबर्ग का ये बयान ऐसे समय में सामने आया है जबकि राष्ट्रपति जो बिडेन ने 2030 तक आधे में यू.एस. ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करने के लिए एक आभासी दो-दिवसीय पृथ्वी दिवस शिखर सम्मेलन आयोजित किया। थुनबर्ग की सक्रियता वैश्विक आंदोलन तक मानी जाती है।

थुनबर्ग ने कहा, “साधारण तथ्य और असहज तथ्य यह है कि अगर हम पेरिस में अपने वादों और प्रतिबद्धताओं पर खरा उतरना चाहते हैं, तो हमें जीवाश्म ईंधन की सब्सिडी खत्म करनी होगी …” । बता दें कि थुनबर्ग, जिनकी सक्रियता 15 साल की उम्र में शुरू हुई जब उन्होंने जलवायु परिवर्तन के लिए स्वीडिश संसद के बाहर विरोध करने के लिए शुक्रवार को स्कूल छोड़ना शुरू कर दिया था।

उन्होने हाउस ओवरसाइट समिति के पर्यावरण उपसमिति के सांसदों को व्याख्यान दिया कि “मैं एक दूसरे के लिए विश्वास नहीं करती हूं कि आप वास्तव में ऐसा करेंगे।”

थुनबर्ग ने कहा, “आपके पास अभी भी सही काम करने और अपनी विरासत को बचाने का समय है, लेकिन समय की वह खिड़की लंबे समय तक नहीं चल पाती है।” “हम युवा लोग वही हैं जो आपके बारे में इतिहास की किताबों में लिखने जा रहे हैं … इसलिए मेरी सलाह है कि आप बुद्धिमानी से चुनें।”

उपसमिति के अध्यक्ष, प्रतिनिधि आरओ खन्ना, अपने साथी डेमोक्रेट बिडेन पर दबाव बना रहे हैं ताकि अमेरिकी बुनियादी ढांचे के पुनर्निर्माण की योजना के तहत जीवाश्म ईंधन सब्सिडी को समाप्त किया जा सके।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
2,981FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts