तालि’बान ने कै’दियों की अदला-बदली के लिए अफगान सरकार को तीन महीने का यु’द्धविराम का प्रस्ताव दिया 

अफगान सरकार के एक वार्ताकार ने गुरुवार को कहा कि तालि’बान ने 7,000 विद्रो’ही कै’दियों की रिहाई के बदले में तीन महीने के संघ’र्ष विराम की पेशकश की।

नादर नादरी ने कहा, “यह एक बड़ी मांग है।” उन्होंने कहा कि विद्रो’हियों ने तालि’बान के नेताओं को संयुक्त राष्ट्र की काली सूची से हटाने की भी मांग की है।

अधिकारियों ने कहा कि यह घोषणा तब हुई जब पाकिस्तान के गार्डों ने अफगानिस्तान में सीमा पार करने की कोशिश कर रहे सैकड़ों लोगों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया।

पाकिस्तान की ओर दक्षिण-पश्चिम चमन सीमा पर एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा, “लगभग 400 लोगों की एक अनियंत्रित भीड़ ने जबरदस्ती गेट पार करने की कोशिश की। उन्होंने पत्थर फेंके, जिससे हमें आंसू गैस का इस्तेमाल करने के लिए मजबूर होना पड़ा।”

उन्होंने कहा कि बुधवार से करीब 1500 लोग सीमा पार करने का इंतजार कर रहे थे। एक दूसरे सीमा अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा, “हमें लाठीचा’र्ज करना पड़ा क्योंकि लोग अनियंत्रित हो रहे थे।” चमन के एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी जुमादाद खान ने कहा कि स्थिति अब “नियंत्रण में” है।

अफगान तालिबान के एक सूत्र ने एएफपी को बताया कि पाकिस्तान में घुसने की उम्मीद में सैकड़ों लोग अफगान की तरफ भी जमा हो गए थे। उन्होंने कहा, ‘हम पाकिस्तानी अधिकारियों से बात कर रहे हैं। सीमा खोलने के लिए औपचारिक बैठक आज होनी है और उम्मीद है कि यह एक या दो दिन में खुल जाएगी।