असद का बड़ा खुलासा – सीरिया का धन लेबनान के बैंकों में है जमा, निवेश में आ रही बाधा

सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद ने शनिवार को कहा कि देश में निवेश के लिए मुख्य बाधा बीमार लेबनानी बैंकों में फंसा सीरिया का पैसा है।

चौथे कार्यकाल के लिए राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने के बाद एक भाषण में, असद ने कहा कि अनुमानों से पता चलता है कि जमा हुए धन की कीमत $ 40 बिलियन से $ 60 बिलियन के बीच थी। उन्होंने कहा, “दोनों आंकड़े हमारी जैसी अर्थव्यवस्था को कमजोर करने के लिए काफी हैं।”

बता दें कि लेबनान एक गहरे आर्थिक मंदी की चपेट में है जिससे इसकी स्थिरता को ख’तरा है। 2019 के अंत में देश के संकट की शुरुआत के बाद से लेबनानी बैंकों ने जमाकर्ताओं को उनके खातों से पैसा निकालने से रोक दिया है और विदेशों में धन के स्थानांतरण को भी अवरुद्ध कर दिया है।

कई सीरियाई फ्रंट कंपनियों ने लंबे समय से लेबनान की बैंकिंग प्रणाली का उपयोग करके माल के भुगतान के लिए पश्चिमी प्रतिबंधों को दरकिनार कर दिया था।

असद ने यह भी कहा कि सीरिया अपने दशक भर के यु’द्ध के दौरान पश्चिमी प्रतिबंधों के कारण उत्पन्न कठिनाइयों को दूर करने के लिए काम करना जारी रखेगा। उन्होंने कहा, “प्रतिबंधों ने हमें अपनी बुनियादी जरूरतों को पूरा करने से नहीं रोका है, लेकिन उन्होंने कुछ अवरोध पैदा कर दिए हैं।”

“हम उन पर काबू पाने के लिए काम करना जारी रखेंगे, यह घोषणा किए बिना कि हमने ऐसा करने के लिए पहले किन तरीकों का इस्तेमाल किया या भविष्य में हम क्या इस्तेमाल करेंगे।” बता दें कि असद का अबदेश के लगभग 70% हिस्से पर नियंत्रण हासिल है, लेकिन अर्थव्यवस्था में बड़ी गिरावट है।