Sulaiman Al Rajhi, एक सऊदी जिन्होंने चैरिटी में $16 बिलियन का दिया दान

0
992

सऊदी अरबपति Sulaiman Al Rajhi की कहानी बहुत ज़्यादा inspiring है बहुत साधारण परिवार से नाता रखते हुए और बहुत नीचे से ऊपर पहुंचने की कहानी आपको चौका देगी

12 साल की उम्र में, उन्होंने अपनी नौकरी के रूप में खजूर इकट्ठा करना शुरू कर दिया, जिससे उन्हें प्रति माह सिर्फ छह सऊदी रियाल का भुगतान किया गया उसके डी शेख सुलेमान बिन अब्दुलअज़ीज़ Al Rajhi एक ही वर्कप्लेस पर सख्त ज़मीन पर सोते थे और अपनी कड़ी मेहनत के दौरान भी रोज़ाना वही कपड़े पहनते थे।

विज्ञापन

इसके बाद उन्होंने रियाद में स्थित एक होटल में कुक के रूप में भी काम किया। उन्होंने imported kerosene के तेल के थोक विक्रेता के रूप में भी काम किया है।

उन्होंने सऊदी ठेका कंपनियों में से एक में वेटर के रूप में काम किया, जिसके लिए उन्हें प्रति माह सिर्फ 60 सऊदी रियाल ही मिलते थे। इसके बाद उन्होंने अपनी किराना की दुकान शुरू की।

उन्हें अपनी शादी के लिए अपनी दुकान तक बेचनी पड़ी। उन्होंने बाद में अपने भाई सालेह अल-राझी के लिए काम किया और 1970 में, उनके जीवन में असली सफलता तब मिली, जब उन्होंने अपने व्यवसाय को अपने भाई से अलग किया और अपनी currency exchange company खोली।

उन्होंने अपना करियर शुरू किया और बाजार में एक याग बिज़नसमैन के रूप में खुद को पेश किया, ऐसे समय में जब अरब की खाड़ी क्षेत्र में नए व्यवसाय तैयार करना बहुत मुश्किल होता था।

बाद में उन्होंने अपने currency exchange बिज़नेस बढ़ाना शुरू किया जो पूरे सऊदी अरब में 30 से अधिक शाखाओं में फैल गया। उन्होंने अरब दुनिया के विभिन्न देशों में अपना कारोबार फैलाया जिसमें मिस्र और लेबनान शामिल थे।

वह अब Sulaiman Al Rajhi बैंक के फाउंडर भी हैं और उनकी गिनती दुनिया के सबसे धनी व्यक्तियों में होती है। फोर्ब्स के अनुसार, Sulaiman Al Rajhi की संपत्ति 2011 में $ 16 बिलियन (SR 60,000 मिलियन) का दान करने के बाद $ 7 बिलियन रह गयी थी।

एक बार एक interviewer ने उनसे पूछा, “तो आपने अपनी आधी संपत्ति अपने परिवार को और आधी अपनी गरीबो को दे दी। आपने अपने खर्चों के लिए क्या रखा है?

उन्होंने जवाब दिया “बस, कुछ नहीं!” उन्होंने ये जवाब हस्ते हुए और शांत स्वभाव के साथ दिया। “मैं अपने अस्सी के दशक में हूँ! मुझे क्या चाहिए होगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here