हरम शरीफ में जाने पर देना पड़ सकता है 10,000 सऊदी रियाल का जुर्माना

हज के दौरान बिना परमिट के हरम शरीफ सहित आसपास के क्षेत्र और पवित्र हज स्थलों तक पहुंचने का प्रयास करने वाले किसी भी व्यक्ति पर SR10,000 ($ 2,666) का जुर्माना लगाया जाएगा।

आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि पवित्र स्थलों में मीना, मुजदलिफा और अराफात शामिल हैं और अगर अ’पराध दो बार किया गया तो जुर्माना दोगुना हो जाएगा।

मंत्रालय ने सभी नागरिकों और निवासियों से इस साल हज के दौरान जारी निर्देशों का पालन करने का आह्वान किया और कहा कि सुरक्षाकर्मी सभी सड़कों और रास्तों पर अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे। जो मस्जिद और पवित्र स्थलों की ओर जाते हैं।

हाल ही में हरम शरीफ और मस्जिद ए नबवी के इंतजाम संभालने वाली कमेटी के 40 विशेषज्ञों की एक टीम ने हज की तैयारियों के बीच किस्वा (काबा कवर) के निचले हिस्से को तीन मीटर ऊपर उठा कर सफेद सूती कपड़े को बदला।

कपड़ा बदलने का उद्देश्य हाजियों से कपड़े की रक्षा करना है क्योंकि तवाफ के दौरान रेशम के धागे को घर्षण से बचाना आवश्यक होता है। इस दौरान चिकित्सा और तकनीकी कर्मियों के साथ परिसर की टीम ने प्रक्रिया की सुरक्षा की निगरानी की।