No menu items!
29.1 C
New Delhi
Saturday, October 23, 2021

कनाडा बसने के चक्कर में भारत आने वाली फ्लाइट में नही बैठ रहे अफगानी सिख-हिन्दू

नयी दिल्ली – एक चौकाने वाली खबर अफगानिस्तान से आ रही है जहाँ आजकल तालिबान के कब्ज़ा करने के बाद से पूरी दुनिया की नज़र वहां की बदलते हालातों पर है, अफगानिस्‍तान से अब तक सैंकड़ों लोगों को भारत सरकार निकालकर स्‍वदेश वापस ला चुकी है।

भारतीय वायुसेना के विमान लगातार काबुल के लिए उड़ान भर रहे हैं। इस बीच अफगानिस्‍तान में सिखों और हिंदुओं का अमेरिका और कनाडा जाने का सपना भारत सरकार के लिए बड़ी समस्‍या का सबब बन गया है। अफगान सिख और हिंदू काबुल से निकलने की प्रक्रिया में देरी कर रहे हैं। यही नहीं इन लोगों को काबुल से निकालने में जो लोग मदद कर रहे हैं, उन्‍होंने सिखों और हिंदुओं से पूछा है कि क्‍या भारत सरकार भारतीयों को निकालने की प्रक्रिया को बंद करे या नहीं।

इंडियन वर्ल्‍ड फोरम के अध्‍यक्ष पुनीत सिंह चंधोक ने बताया कि अफगानिस्‍तान के गुरुद्वारा कर्ते परवान में मौजूद 70 से 80 अफगान सिख और हिंदू भारत वापस नहीं जाना चाहते हैं, उनकी इच्‍छा कनाडा या अमेरिका जाने की है। उन्‍होंने कहा कि ये लोग न केवल नागरिकों को निकालने की प्रक्रिया में बाधा डाल रहे हैं, बल्कि अन्‍य लोगों को निकालने की प्रक्रिया में देरी कर रहे हैं।

पुनीत सिंह ने कहा, ‘ये लोग अमेरिका और कनाडा जाने के चक्‍कर में दो बार अपनी फ्लाइट छोड़ चुके हैं. वह भी तब जब भारत सरकार इन लोगों को सबसे उच्‍च स्‍तर की सुविधा मुहैया करा रही है.’ सूत्रों के मुताबिक सिख संगठनों ने सभी अफगान सिख और हिंदुओं को निकालने के लिए चार्टेड प्‍लेन की व्‍यवस्‍था की है. इनमें से 100 लोग काबुल एयरपोर्ट के बाहर आए भी, लेकिन उन्‍हें प्रवेश नहीं मिल सका.

इसके बाद से लगातार आम नागरिकों को निकालने का काम जारी है। बता दें कि अमेरिकी सैनिकों की स्वदेश वापसी की पृष्ठभूमि में तालिबान ने अफगानिस्तान में इस महीने तेजी से अपने पांव पसारते हुए राजधानी काबुल समेत वहां के अधिकतर इलाकों पर कब्जा जमा लिया है। भारत के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वे अफगानिस्तान की राजधानी से सभी भारतीय नागरिकों की सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करेंगे।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
2,988FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts