No menu items!
23.1 C
New Delhi
Sunday, December 5, 2021

देखिये सऊदी अरब में मिले जमीन में दफन 2 हजार साल पुराने दो प्राचीन किंगडम

सऊदी अरब के उत्तर पश्चिम हिस्से में स्थित अल-उला के पहाड़ों में पुरातत्वविदों को एक खोया हुए राज्य मिले हैं। इन राज्यों से जुड़े अवशेषों की खुदाई के लिए पुरातत्वविदों की टीम चौबीस घंटे खुदाई कर रही है। इन राज्यों का संबंध दादन और लिहयान राजशाही से जुड़ा बताया जा रहा है। अल-उला सऊदी अरब का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है, जिसे 2019 में आम लोगों के लिए खोला गया था।

अल-उला को प्राचीन अरब की राजधानी माना जाता है। इसे मुख्य रूप से मदैन सालेह के राजसी मकबरों के लिए जाना जाता है। मदैन सालेह यूनेस्को से मान्यता प्राप्त सऊदी अरब का पहला वर्ल्ड हैरिटेज साइट है। इस जगह का निर्माण अरब के प्राचीन निवासी नबातियन ने चट्टानों को काटकर किया था। इन लोगों ने ही वर्तमान में जॉर्डन में स्थित पेट्रा का निर्माण भी किया था।

फ्रांसीसी और सऊदी पुरातत्वविदों की एक टीम अब दादन और लिहयान सभ्यताओं से जुड़े पांच स्थलों पर खुदाई कर रही है। ये सभ्यताएं करीब 2000 साल पहले इस क्षेत्र में फली-फूली थीं। अभी तक यह ज्ञात नहीं है कि इन सभ्यताओं के खत्म होने का कारण क्या था। दादन पुरातात्विक मिशन के को-डायरेक्टर अब्दुलरहमान अल-सोहैबानी ने कहा कि यह एक ऐसा प्रॉजेक्ट है जो वास्तव में इन सभ्यताओं के रहस्यों को खोल सकता है।

इस प्रॉजेक्ट से जुड़े रॉयल कमीशन ने बताया कि दादन का उल्लेख ओल्ड टेस्टामेंट में किया गया है, जबकि लिहयान अपने समय का सबसे बड़ा साम्राज्य था। इसकी सीमाएं क्षिण में मदीना से उत्तर में आधुनिक जॉर्डन में अकाबा तक फैली थीं। 100 ईस्वी तक लगभग 900 वर्षों में दोनों राज्यों ने महत्वपूर्ण व्यापार मार्ग को नियंत्रित किया था। लेकिन, इन दोनों राज्यों के बारे में बहुत ही कम जानकारी सार्वजनिक है।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
3,041FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts

error: Content is protected !!