सऊदी अरब में महिला को सोशल मीडिया पर पोस्ट करना पड़ा महंगा, कोर्ट ने सुनाई 45 साल जेल की स’ज़ा’

0
178

सऊदी अरब में एक महिला नूरा अल-क़हतानी को सोशल मीडिया पर पोस्ट करना महंगा पड़ गया है. उसको महज सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के कारण 45 साल जेल की स’जा सुनाई गई है. समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक सऊदी अरब में यह दूसरा ऐसा मामला है जिसमें सोशल मीडिया के इस्तेमाल को लेकर इतनी कठोर स’जा सुनाई गई है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नूरा पर इंटरनेट के जरिए देश के सामाजिक ताने-बाने को नुक’सान पहुंचाने और सार्वजनिक व्यवस्था के उ’ल्लं’घ’न का मामला द’र्ज किया था. नूरा पर यह का’र्रवा’ई साइबर अ’परा’ध विरो’धी कानून के तहत की गई है.

नूरा पर हुई कार्रवाई के कागजात सऊदी अरब के दिवं’गत पत्रकार जमाल खशोगी की वाशिंगटन स्थित संस्था ने जारी किये हैं, हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स में इन दस्तावेजों को सत्यापित नहीं किया जा सका है. नूरा अल-क़हतानी का ट्विटर पर अकाउंट कुछ खास एक्टिव नहीं है, लेकिन उनके ट्वीट के कारण उनको जुलाई 2021 में गिरफ्तार कर लिया गया था और विशेष न्यायालय में इसी अ’परा’ध के लिए दो’षी ठहराया था.

विज्ञापन

नूरा से पहले किस महिला को सुनाई गई है कैद की सजा?
बाद में नूरा ने इस महीने की शुरूआत में उच्च अदालत में अपील की लेकिन यहां से भी उनको कोई राहत नहीं मिल सकी. नूरा से पहले सऊदी अरब ने सलमा अल-शहाब नाम की एक महिला को सोशल मीडिया के इस्तेमाल के कारण 34 साल कै’द की स’जा सुनाई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here