सऊदी के अख़बार ने लिखा ‘क्या अदालत को तय करना चाहिए की हिजाब इस्लाम में अनिवार्य है?’

0
1104
Saudi newspaper wrote 'Should the court decide whether the hijab is compulsory in Islam?'

कर्नाटक के ऐतिहासिक हिजाब फैसले से देश भर में माहौल कुछ बदल सा गया है कई दिग्गज नेताओ ने जैसे मेहबूबा मुफ़्ती और असदउद्दीन ओवैसी ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी हैं की ये फैसला सही नहीं और ये किसी व्यक्तिगत आज़ादी को छीनने जैसा है इसलिए इसके लिए लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाना चाहिए।

दक्षिणी राज्य कर्नाटक में तीन-न्यायाधीशों की बेंच ने स्कूलों और कॉलेजों में हिजाब पर इस आधार पर सरकारी प्रतिबंध को बरकरार रखा है कि इसे पहनना इस्लाम में अनिवार्य नहीं है ।

विज्ञापन

हाई कोर्ट के इस फैसले को चुनौती देने के लिए इस्लामिक ग्रुप्स ने गुरुवार को बंद का आह्वान किया है

हालाँकि कांग्रेस इस मुद्दे पर अभी खुल कर नहीं बोला है लेकिन कांग्रेस के मुस्लिम नेताओ ने कहा है की उन्होंने धार्मिक गुरुओ से बातचीत की है और वो इस फैसले का समर्थन नहीं करेंगे और सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगे।

कर्नाटक के उच्च न्यायालय के आदेश के कुछ घंटों बाद प्रतिबंध के खिलाफ अपील दायर की गई थी। इसी के साथ सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को कहा कि वह होली की छुट्टी के बाद एचसी के फैसले को चुनौती देने वाली अपील को सूचीबद्ध करने पर विचार करेगा ।

भारत के मुख्य न्यायाधीश एन वी रमना ने वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े से कहा, जिन्होंने तत्काल सूची की मांग की, उन्हें छुट्टी के बाद देखा जाएगा ।” शीर्ष अदालत होली के लिए तीन दिन बंद रहेगी और 21 मार्च को फिर से खुलेगी।

याचिकाकर्ता कर्नाटक के उडुपी जिले के एक सरकारी कॉलेज में कक्षा में हिजाब पहनने से प्रतिबंधित मुस्लिम लड़कियों का एक समूह था – उन्होंने विरोध किया, लेकिन कॉलेज ने इसपर कोई ध्यान नहीं दिया और बैन जारी रखा जिसके बाद ये मामला अदालत में समाप्त हो गया।

इस फैसले पर लड़कियों ने कहा है की ये उनकी आज़ादी को छीनने जैसा है और ये भेदभाव वाला मामला है हिजाब पहनना हमारा हक़ है इसे हमसे कोई भी नहीं चीन सकता

सरकार ने इसे चुनौती देते हुए कहा कि याचिकाकर्ता ये साबित करे की हिजाब इस्लाम की “आवश्यक” धार्मिक प्रथा है।

वही सऊदी के सरकारी अख़बार सऊदी गज़ट ने इस मामले को लेकर अपने अख़बार में लेख लिखकर इस मामले पर सवालिया निशान लगाया है, “क्या अदालत को तय करना चाहिए की हिजाब इस्लाम में अनिवार्य है” इस शीर्षक से लिखे लेख में सऊदी गज़ट मामले की तह तक जाता है तथा उन सभी घटनाओं का ज़िक्र करता है जो की इस मामले से जुडी है. नीचे अख़बार का स्क्रीन शॉट आप देख सकतें हैं.

साभार - सऊदी गज़ट

साभार - सऊदी गज़ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here