सऊदी क्राउन प्रिंस बोले – अमेरिका के साथ मतभेद न्यूनतम, विज़न 2030 की उपलब्धियां भी गिनाई

जेद्दा: सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने मंगलवार को अमेरिका के साथ एक रणनीतिक साझेदार के रूप में और ईरान के “नकारात्मक व्यवहार” के समाधान खोजने के लिए सहयोगियों के साथ काम करने के लिए अपना दृष्टिकोण दुनिया के सामने रखा।

विजन 2030 की पांचवीं वर्षगांठ के मौके पर 90 मिनट के टीवी साक्षात्कार में, तेल पर निर्भरता से विविधीकरण के लिए महत्वाकांक्षी सामाजिक और आर्थिक खाका तैयार करने पर ज़ोर दिया। साथ ही उन्होने कहा कि सऊदी सरकार ज्यादातर मुद्दों पर अमेरिका में बिडेन प्रशासन के साथ सहमत है और वे असहमति पर भी आम जमीन खोजने के लिए एक साथ काम कर रहे।

क्राउन प्रिंस ने कहा, ”हर परिवार की तरह, भाई सभी मुद्दों और मामलों पर 100 प्रतिशत सहमत नहीं होते हैं। जब यह सरकारों की बात आती है, तो ऐसा ही होता है।” जैसे-जैसे अमेरिकी प्रशासन बदले, “अंतर बढ़ या घट सकता है, लेकिन हम राष्ट्रपति बिडेन की 90 प्रतिशत नीति के अनुरूप हैं और हम इसे एक या दूसरे तरीके से बढ़ाने की उम्मीद करते हैं।

उन्होने आगे कहा, “और जिन चीजों के बारे में हमारे साथ कुछ मतभेद हैं। वह 10 प्रतिशत है, हम जोखिम को बेअसर करने की कोशिश करते हैं और उनके बारे में समझ तक पहुंचते हैं। वे 80 से अधिक वर्षों से हमारे साझेदार हैं। ”

ईरान को लेकर उन्होने कहा, ईरान एक पड़ोसी था और “हम एक अच्छे संबंध की उम्मीद करते हैं, हम चाहते हैं कि यह बढ़े और समृद्ध हो। हमारा मुद्दा उनके पर’माणु कार्यक्रम, उनके क्षेत्रीय परदे के पीछे के समर्थन और उनके बैलि’स्टिक मिसा’इल कार्यक्रम जैसे नकारात्मक प्रभावों के साथ है। हम इन मुद्दों का समाधान खोजने के लिए अपने सहयोगियों के साथ काम कर रहे हैं।”