हरम शरीफ और मस्जिद ए नबवी में तरावीह की नमाज़ को मंजूरी, सिर्फ होगी 10 रकात

सऊदी अरब के किंग सलमान ने रमजान के दौरान मक्का में ग्रैंड मस्जिद और मदीना में पैगंबर की मस्जिद में आयोजित होने वाली तरावीह की नमाज को मंजूरी दे दी है। लेकिन तरावीह की नमाज़ 10 रकात के साथ ही अदा होगी।

दो पवित्र मस्जिदों के मामलों के लिए राष्ट्रपति पद के प्रमुख शेख अब्दुल रहमान अल-सुदैस ने कहा कि फैसला किंग सलमान की इच्छा के आधार पर था कि वे दोनों मस्जिदों में नमाज जारी रखे। और इबादत करने वालों की मदद करने के लिए सभी साधनों को उपलब्ध कराया जाये।

सौजन्य से -अल अरेबिया

इस्लामिक मामलों के मंत्रालय ने घोषणा की कि तरावीह और क़ियाम नमाज़ को किंगडम की सभी मस्जिदों में ईशा की नमाज़ के साथ जोड़ा जाएगा, और यह कि वे 30 मिनट से अधिक न हों। मंत्रालय ने कहा कि यह फैसला संक्रमण की उच्च दर से बचने के लिए उस अवधि को कम करने के लिए किया गया था जो नमाज़ी मस्जिदों के अंदर खर्च करते हैं।

मंत्रालय ने यह भी कहा कि उमरा की अनुमति रमजान के दौरान ग्रैंड मस्जिद के आसपास के होटलों के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है। मक्का के आसपास के मध्य क्षेत्र में अनधिकृत वाहनों को अनुमति नहीं दी जाएगी। बच्चों को न तो मस्जिदों में प्रवेश करने दिया जाएगा, न ही मस्जिदों के आसपास के आंगन।

इस बीच, शेख मोहम्मद बिन अहमद अल-खुदाएरी, मस्जिद ए नबवी की अध्यक्षता के अंडरसेक्टरी, ने मस्जिद और उसके वर्गों की क्षमता को मापने के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक सेवा शुरू की।