सऊदी में रहने वाले ध्यान दें- इक़ामा ख़त्म होने के बाद भी विजिट वीज़ा ऐसे होगा रिन्यू

रियाद – जवाज़त निदेशालय ने कहा है कि भले ही किसी विदेशी कर्मचारी यानी प्रवासी की इक़ामा अवधि समाप्त हो जाए, लेकिन रिश्तेदारों के विजिट वीजा के नवीकरण में कोई बाधा नहीं होगी। विदेश में से एक द्वारा की गई जांच के जवाब में जवाज़त ने यह बात कही। जवाज़त ने स्पष्ट किया कि जिन लोगों ने यात्रा वीजा पर रिश्तेदारों की भर्ती की है, उनके इकामा काल की समाप्ति विजिट वीजा पर उन लोगों के वीजा के विस्तार को नहीं रोकती है।

जवाज़त ने कहा कि, “वर्तमान परिस्थितियों में, विदेशियों को नए कार्य वीजा पर देश में प्रवेश करने से रोक नहीं दिया जाएगा।” एक सवाल के जवाब में, जवाज़त ने कहा कि विदेशी लोग वैध वीजा पर अनुमोदित पीसीआर नका’रात्म’ क परीक्षण रिपोर्ट के साथ देश में प्रवेश कर सकते हैं। सऊदी अरब में प्रवेश करते समय, विदेशियों के पास एक पीसी है। शर्त यह है कि आर-नका’रात्म’क परीक्षण रिपोर्ट 72 घंटे से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। सऊदी अरब में आने के 72 घंटे के भीतर प्राप्त पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट का उत्पादन किया जाना चाहिए। कोरोना परीक्षा परिणाम न’कारात्म’ क होना चाहिए।

जवाज़त ने यह भी कहा कि जो लोग दोबारा प्रवेश वीजा पर देश छोड़ने के बाद वीजा अवधि के भीतर वापस नहीं आते हैं उनके लिए प्रवेश प्र’तिबं’ध आश्रितों पर लागू नहीं होता है। सऊदी अरब छोड़ने वाले आश्रितों का वीजा पिछले महीने की 30 तारीख को समाप्त हो गया। जवाज़त ने यह बात विदेशियों में से एक के जवाब के रूप में कही कि क्या नए वीजा पर उन्हें सऊदी अरब वापस लाने के लिए तीन साल की आवश्यकता लागू थी। जवाज़त ने कहा कि प्रवेश प्र’तिबं’ध उन आश्रितों पर लागू नहीं होता है जो देश में फिर से प्रवेश करने के बाद वीजा अवधि के भीतर वापस नहीं आते हैं।