सऊदी अरब में काम करने वाले मजदूरों के लिए अनिवार्य हुआ बीमा

सऊदी सरकार ने कहा है कि भर्ती फर्मों के लिए घरेलू कामगारों के अनुबंधों का बीमा करना अनिवार्य है, जिसका उद्देश्य अनुबंध के लिए दोनों पक्षों के अधिकारों की रक्षा करना और सऊदी नौकरी बाजार के आकर्षण को बढ़ावा देना है। सऊदी किंग सलमान अब्दुलअज़ीज़ की अध्यक्षता में एक साप्ताहिक कैबिनेट बैठक में इस कदम को मंजूरी दी।

सऊदी समाचार एजेंसी एसपीए के अनुसार, सरकार का निर्णय यह निर्धारित करता है कि अनुबंध प्रवर्तन की शुरुआत के पहले दो वर्षों के लिए भर्ती कार्यालय और नियोक्ता के बीच संपन्न अनुबंध की समग्र लागत में बीमा लागत को शामिल किया जाएगा। बाद में, कर्मचारी के इकामा या निवास परमिट के नवीनीकरण पर नियोक्ता के लिए बीमा वैकल्पिक होगा।

सऊदी मानव संसाधन और सामाजिक मामलों के मंत्रालय ने कहा कि नए कदम से नियोक्ता और कर्मचारी दोनों को लाभ होगा, जिसमें नियोक्ता की मृ’त्यु या पुरानी या गंभीर बीमारियों के कारण काम करने में असमर्थता के मामले में नियोक्ता को मुआवजा प्रदान करना शामिल है। इस बीच दुर्घ’टना के परिणामस्वरूप स्थायी पूर्ण या आंशिक अक्षमता पीड़ित होने की स्थिति में कार्यकर्ता मुआवजे का हकदार होगा।

इसके अलावा, बीमा निर्णय सऊदी श्रम बाजार को और अधिक आकर्षक बनाने, संविदात्मक संबंधों में सुधार, घरेलू श्रम भर्ती में जोखिम को कम करने और दोनों पक्षों की प्रतिबद्धता को बढ़ावा देने के लिए निर्धारित है।

पिछले नवंबर में, सऊदी अरब ने प्रमुख श्रम सुधारों का अनावरण किया, नौकरी की गतिशीलता की अनुमति दी और नियोक्ता की मंजूरी के बिना प्रवासी श्रमिकों के लिए निकास और पुन: प्रवेश वीजा जारी करने को विनियमित किया। राज्य में लाखों प्रवासी कामगार मार्च में लागू हुए सुधारों से लाभान्वित होने के लिए खड़े हैं।