सऊदी ने उमरा फीस वापस करने के लिए शुरू किया ई-सिस्टम, एजेंटों से संपर्क करने को कहा

सऊदी अरब ने उमराह जायरिनो, जिनकी यात्राएं रद्द कर दी गई हैं, को वीजा फीस सहित उनकी यात्राओं से जुड़ी अन्य सेवाओं की फीस को पर रिफंड करने के लिए एक नई इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली शुरू करने की घोषणा की।

एक आधिकारिक बयान में, देश के हज मंत्रालय और उमराह ने कहा कि यह कदम सऊदी सरकार द्वारा कोरोनवायरस प्रसार को रोकने के लिए अस्थायी रूप से राज्य में प्रवेश को निलंबित करने के हालिया फैसले के बाद आया है।

आधिकारिक सऊदी प्रेस एजेंसी (एसपीए) ने बताया कि सिस्टम विभिन्न देशों में जयरिनो को अपने द्वारा भुगतान की गई फीस को वापस लेने के लिए इलेक्ट्रॉनिक अनुरोध प्रस्तुत करने के लिए अधिकृत करेगा। मंत्रालय ने उन सभी से आग्रह किया वह अपने देश में स्थानीय उमराह एजेंटों से संपर्क कर वीजा शुल्क और सेवा शुल्क के लिए वापसी के दावे करे।

गुरुवार को, सऊदी अधिकारियों ने उमराह जायरिनों के राज्य में प्रवेश को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया, जिसका उद्देश्य “देश में कोरोनावायरस के आगमन को रोकना” था। मदीना में पैगंबर की मस्जिद की यात्राओं के लिए प्रवेश भी निलंबित है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि हज यात्रा जुलाई के अंत में शुरू होने वाली है या नहीं।

सऊदी अरब के पास कोरोनावायरस का कोई मामला नहीं है, लेकिन यह कुछ पड़ोसी देशों में फैल रहा है। कोरोनावायरस का संकट  हज यात्रा पर भी मंडरा रहा है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE