पिछले एक साल में सऊदी के रेगिस्तान में गायब हो गए 131 लोग, नहीं चला कुछ पता

सऊदी अरब के विशाल रेगिस्तानों में लाख कोशिशों के बावजूद भी लापता होने वाले लोगों का कुछ पता नहीं चल पा रहा है। आकड़ों के मुताबिक पिछले एक साल में इन रेगिस्तान में 131 लोग गायब है। जिनके बारे में कोई जानकारी नहीं है।

स्थानीय मीडिया ने बताया कि रेगिस्तान के ख’तरों से अनभिज्ञ या अनजान व्यक्ति, सऊदी अरब के रेगिस्तान को पार करते हुए विभिन्न दुर्घट’नाओं में पिछले साल 131 लोग लापता हो गए।

रियाद में इंगड सर्च एंड रेस्क्यू एसोसिएशन के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल दुर्घटनाओं में भूख और प्यास से 20 लोगों की मौ’त हुई, लेकिन उनमें से 100 लोग अच्छे स्वास्थ्य में पाए गए, जबकि 11 अन्य मामलों का कोई विवरण नहीं है।

भौगोलिक रूप से, रियाद में 41 लोग, शरकिया में 13, नजारन में 5, असिर में 1, मक्का में 2, मदीना में 3, हाइल में 31, कासिम में 10, कासिम में 11, तबुक में 11, अल जावफ में 3 लोग लापता हो गए। बता दें कि सऊदी अरब का आधे से ज्यादा इलाका रेगिस्तानी है।

नजारन सिविल डिफेंस डिपार्टमेंट के प्रवक्ता मेजर अब्दुल खलीक अल कहतानी ने कहा कि अगर आप अपने आप को रेगिस्तान में फंसे हुए या खोए हुए पाते है तो आपकी जीवित रहने की क्षमता इस बात पर निर्भर करेगी कि आप कितनी जल्दी पानी का स्रोत ढूंढ सकते हैं।

उन्होंने कहा, “हममें से ज्यादातर लोग पानी के लिए तरसते हैं। रेगिस्तान के बीच में ऐसा नहीं है। गर्म धूप, शुष्क हवा, और छाया की कमी आपके शरीर से हर नमी को चूस सकती है, जब तक आप इसे महसूस नहीं करते।” उन्होंने कहा कि आप जितना हो सके सर्वश्रेष्ठ बने रहें।