कोरोनोवायरस से निपटने के लिए रूस ने की अमरीका की बड़ी चिकित्सा मदद

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ चर्चा के बाद कोरोनोवायरस महामारी से लड़ने में मदद करने के लिए संयुक्त राज्य को चिकित्सा उपकरण भेजे हैं।

ट्रम्प, वेंटिलेटर और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए संघर्ष कर रहे, सोमवार को एक फोन कॉल में पुतिन की पेशकश को स्वीकार कर लिया। एक रूसी सैन्य परिवहन विमान मॉस्को के बाहर एक हवाई क्षेत्र को छोड़कर बुधवार की देर दोपहर न्यूयॉर्क के जॉन एफ कैनेडी हवाई अड्डे पर पहुंचा।

क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव को मंगलवार को इंटरफैक्स समाचार एजेंसी से कहा, “ट्रम्प ने कृतज्ञतापूर्वक इस मानवीय सहायता को स्वीकार किया।” पुतिन के साथ फोन के बाद ट्रम्प ने खुद रूसी मदद के बारे में उत्साह से बात की।

वाशिंगटन में एक अमेरिकी अधिकारी ने पुष्टि की कि शिपमेंट पुतिन के साथ ट्रम्प के फोन पर बातचीत का प्रत्यक्ष परिणाम था। अधिकारी ने कहा कि इसने 60 टन वेंटिलेटर, मास्क, रेस्पिरेटर और अन्य सामान ले गए। अधिकारी ने कहा कि उपकरणों की सावधानीपूर्वक जांच की जाएगी ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन की गुणवत्ता आवश्यकताओं के अनुरूप है।

रूस के रोसिया 24 चैनल ने बुधवार की सुबह विमान को अंधेरे में मास्को के बाहर एक सैन्य हवाई अड्डे से उड़ान भरते हुए दिखाया। इसका कार्गो होल्ड कार्डबोर्ड बॉक्स और अन्य पैकेजों से भरा था। पुष्टि की गई अमेरिका के कोरोनोवायरस मामलों में 4,500 मौ’तों के साथ 205,000 से अधिक की वृद्धि हुई है।

रूस में, 17 मौ’तों के साथ पुष्टि किए गए मामलों की आधिकारिक मिलान 2,337 है, हालांकि वहां कुछ डॉक्टरों ने आधिकारिक आंकड़ों की सटीकता पर सवाल उठाया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE