रूस 12 अगस्त से कोरोना वैक्सीन का करेगा रजिस्ट्रेशन, WHO ने जताया संदेह

बढ़ती कोरोना महामारी के बीच एक अच्छी खबर सामने आई है। रूस अगले हफ्ते दुनिया के पहले एटी-कोविड वैक्सीन को रजिस्टर करने जा रहा है। उप-स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडनेव ने शुक्रवार को कहा कि रूस 12 अगस्त को कोरोना वायरस के खिलाफ अपना पहला टीका रजिस्टर कराएंगे।

रूसी के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने घोषणा की कि यूरोपीय देश अक्टूबर 2020 से वैक्सीन के बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू करने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि वैक्सीन से संबंधित सभी खर्च राज्य के बजट में शामिल किए जाएंगे। अगले ही सप्ताह तक कोना वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

उप स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडिडेव ने कहा कि इस समय अंतिम तीसरा चरण चल रहा है। परीक्षण बेहद महत्वपूर्ण हैं। हमें यह समझना होगा कि टीका सुरक्षित होना चाहिए। यह भी कहा कि टीका की प्रभावशीलता को मापा जा सकता है। जब आबादी ने एक प्रतिरक्षा विकसित की है।

हालांकि डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि वह रूस के वैक्सीन कार्यक्रम से सावधान है, जिसके बारे में उन्हें कोई आधिकारिक खबर नहीं मिली है। संगठन ने रूस से वैक्सीन उत्पादन के लिए बनाई गई गाइडलाइन का पालन करने के लिए कहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रवक्ता क्रिस्टियन लिंडमियर ने AFP न्यूज एजेंसी से कहा था, “किसी भी वैक्सीन या दवा के लिए कुछ नियम और गाइडलाइन्स बनाई गई हैं। लाइसेंस लेने से पहले हर वैक्सीन को सभी ट्रायल और टेस्ट से गुजरना होगा।”

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपनी वेबसाइट पर क्लिनिकल ट्रायल से गुजर रहीं 25 वैक्सीन को सूचीबद्ध किया है जबकि 139 वैक्सीन अभी प्री-क्लिनिकलस्टेज में हैं। तीसरे चरण के क्लिनिकल ट्रायल में कुछ वैक्सीन ही हैं जिनमें रूस की वैक्सीन शामिल नहीं है। अभी तक ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड, अमेरिका की मॉडर्ना और चीन की सिनोवैक वैक्सीन तीसरे चरण के ट्रायल के दौर में है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE