आखिर रूस ने क्यों कहा कि वह सऊदी क्राउन प्रिंस के रूख का करता है समर्थन?

रूस ने अंतरराष्ट्रीय संबंधों पर सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के रुख का समर्थन किया। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने शुक्रवार को ये जानकारी दी।

दिमित्री पेसकोव ने कहा, “हमने सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के दिये एक विस्तृत साक्षात्कार पर ध्यान दिया, जो उन्होंने किंगडम, विज़न 2030 के व्यापक आधुनिकीकरण कार्यक्रम के शुभारंभ की पांचवीं वर्षगांठ के अवसर पर दिया था।”

उन्होने कहा, “और हमने रियाद की विश्व मामलों में संयुक्त राष्ट्र की केंद्रीय भूमिका के साथ-साथ समानता, आपसी सम्मान, राष्ट्रीय हितों के निष्पक्ष विचार और एक दूसरे के आंतरिक मामलों में गैर-हस्तक्षेप के सिद्धांतों के आधार पर अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के निर्माण के बारे में उनके शब्दों पर ध्यान दिया।

प्रवक्ता ने यह भी कहा कि क्रेमलिन रूस और सऊदी अरब के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और बढ़ावा देने के लिए तैयार था, जिसमें पुतिन की रियाद की नवीनतम यात्रा के दौरान किए गए समझौतों के कार्यान्वयन के माध्यम से भी शामिल था।

सऊदी क्राउन प्रिंस ने किंगडम के महत्वाकांक्षी विकास कार्यक्रम की पांचवीं वर्षगांठ के अवसर पर 90 मिनट का टीवी साक्षात्कार दिया और विभिन्न विषयों पर चर्चा की।