मक्का में छह इस्लामी ऐतिहासिक स्थलों किया जा रहा नवीकरण, सभी हुजूर से है जुड़ी हुई

मक्का में छह इस्लामी ऐतिहासिक स्थलों और संग्रहालयों में पुनर्निर्माण और नवीकरण परियोजनाएं चल रही हैं।

मक्का सिटी और पवित्र स्थलों के लिए रॉयल कमीशन ने इस्लामिक ऐतिहासिक स्थलों और संग्रहालय के पथ के लिए कार्यकारी समिति से एक क्षेत्र की यात्रा की मेजबानी की।

इन जगहों में में हुदैय्या क्षेत्र शामिल है। जहां  छठी हिजरी वर्ष में पैगंबर मुहम्मद और उनके अनुयायियों और कुरैश कबीले के बीच शांति संधि की बातचीत हुई थी। इसके अलावा बीर तुवा (वेल ऑफ तुवा), जबल थार, 1,200 साल पुराना पानी का कुआं और नहर अयन जुबैदा, मीना स्थल, जबा अल-नूर, गारे हिरा का दौरा किया।

सबसे महत्वपूर्ण परियोजनाओं में से एक जबल अल-नूर सांस्कृतिक केंद्र है।

जो पहाड़ी में एक गुफा वाली पहाड़ी है, जिसका मुसलमानों के लिए बहुत महत्व है क्योंकि यह वह जगह है जहाँ पैगंबर को दिव्यज्ञान प्राप्त हुआ था और पवित्र कुरआन की पहली आयात प्राप्त हुई थी।