कतर ने लीबिया की एकता सरकार को समर्थन की पेशकश की

कतर ने रविवार को लीबिया की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समर्थित राजनीतिक प्रक्रिया को अपना समर्थन दिया, जिसका उद्देश्य उत्तरी अफ्रीकी राष्ट्र को एक दशक के सं’घर्ष और विदेशी हस्तक्षेप से बाहर निकालना है।

कतर के विदेश मंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल-थानी ने लीबिया की राजधानी के दौरे पर कहा, “हम संयुक्त राष्ट्र प्रायोजित राजनीतिक प्रक्रिया का इस उम्मीद में समर्थन करते हैं कि यह लीबिया की क्षेत्रीय अखंडता को बनाए रखे और इसके मामलों में विदेशी हस्तक्षेप को रोके।”

कतर के विदेश मंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल-थानी ने लीबिया की राजधानी के दौरे पर कहा, “हम संयुक्त राष्ट्र प्रायोजित राजनीतिक प्रक्रिया का इस उम्मीद में समर्थन करते हैं कि यह लीबिया की क्षेत्रीय अखंडता को बनाए रखे और इसके मामलों में विदेशी हस्तक्षेप को रोके।”

लीबिया में उनके समकक्ष नजला अल-मंगौश के साथ खड़े पत्रकारों से कहा, जब से लीबिया की नई सरकार ने सत्ता संभाली है, कई देशों ने दूतावासों को फिर से खोल दिया है, और मंगौश ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि दोहा जल्द ही सूट का पालन करेगा। उन्होने “मुझे लगता है कि मुझे अच्छी खबर मिली है।”

पूर्व नेता मुअम्मर गद्दाफी के तख्तापलट के बाद लीबिया एक दशक से सं’घर्ष में घिरा हुआ है। लेकिन अक्टूबर में, प्रतिद्वंद्वी समूहों ने संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व वाली प्रक्रिया को गति प्रदान करते हुए एक समझौता किया। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, 20,000 से अधिक विदेशी भाड़े के सै’निक अभी भी लीबिया में हैं। इनमें तुर्की, रूसी, सूडानी और चाडियन शामिल हैं।