2036 तक राष्ट्रपति बने रह सकते हैं अब पुतिन, संवैधानिक सुधारों से जुड़े कानून को दी मंजूरी

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने शनिवार को प्रस्तावित संवैधानिक सुधारों से जुड़े कानून पर दस्तखत कर दिए। ऐसे में पुतिन 2024 के बाद भी देश का राष्ट्रपति बन सकते हैं। पुतिन का वर्तमान कार्यकाल 2024 में खत्म हो रहा है। इसके बाद पुतिन 2024 के बाद 12 साल और राष्ट्रपति बन सकते हैं।

राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन ने संवैधानिक सुधार से जुड़े 68 पेज के कानून को अपनी वेबसाइट पर छापा है। हालांकि, इस कानून को अब रूस की संवैधानिक अदालत में भेजा जाएगा जो एक हफ्ते के भीतर फैसला करेगी कि इसे मंजूरी दी जाए या नहीं। इसके बाद  कानून पर रूसी नागरिक वोटिंग करेंगे।

क्रेमलिन ने वोटिंग के लिए 22 अप्रैल की तारीख तय की है। रूसी सीनेट के स्पीकर वेलेंटीना मैट्विंको ने बताया कि कोरोना वायरस की चिंताओं के बावजूद वोटिंग होगी। हालांकि ऐसी भी चर्चाएं हैं कि क्रेमलिन ऑनलाइन वोटिंग का फैसला ले सकती है, जबकि विपक्षी दल इसका विरोध कर रहे हैं।

67 वर्षीय पुतिन रूस पर 20 साल से ज्यादा समय से शासन कर चुके हैं. कभी वो राष्ट्रपति रहे, तो कभी प्रधानमंत्री रहे. यह उनका चौथा कार्यकाल है। उन्होंने मार्च 2018 के चुनाव में चौथी बार जीत दर्ज की थी और अब वो साल 2024 तक रूस के राष्ट्रपति पद पर बने रहेंगे।

विपक्षी नेता अलेक्सई मिनीयालो ने कहा कि पुतिन को हमेशा के लिए सत्ता में बने रहने के लिए ऐसा किया गया है. विपक्ष ने इस प्रस्ताव के खिलाफ 21 और 22 मार्च को रैली के आयोजन के लिए प्रशासन से अनुमति मांगी है। हालांकि मास्को सिटी हॉल प्रशासन ने 10 अप्रैल तक एक साथ 5 हजार लोगों के जमा होने पर प्रतिबंध लगा रखा है। ऐसा कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए किया गया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE