वेटिकन में पोप फ्रांसिस ने की लेबनान की यात्रा की घोषणा

पोप फ्रांसिस एक बार से फिर मध्य पूर्व का दौरा करेंगे। उन्होने वेटिकन में लेबनान की यात्रा की घोषणा की। बता दें कि हाल ही में उन्होने इराक़ का दौरा किया था।

पोप फ्रांसिस ने गुरुवार को पुष्टि की कि वह जल्द से जल्द लेबनान का दौरा करना चाहते हैं। वेटिकन के प्रवक्ता माटेओ ब्रूनी ने अरब न्यूज़ से एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि पोप ने “लेबनानी लोगों के प्रति अपनी निकटता को दोहराया, जो बड़ी कठिनाई और अनिश्चितता के समय में रहते हैं।”

ब्रूनी ने कहा कि पोप ने हरीरी से लेबनान जाने की अपनी इच्छा की पुष्टि की “जैसे ही स्थितियां इसकी अनुमति देगी,” और इच्छा व्यक्त की कि देश, “अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की मदद से” एक बार फिर “सह-अस्तित्व” का देश होगा।

हरीरी को नौ महीने पहले एक सरकार बनाने का काम सौंपा गया था, जो देश के आर्थिक संकट को दूर करने के लिए लेबनान को पश्चिम की प्रतीक्षित वित्तीय सहायता के साथ बातचीत करने की अनुमति देने वाली है।

वेटिकन के एक सूत्र ने अरब न्यूज़ को बताया कि हरीरी ने पोप को लेबनान के राष्ट्रपति मिशेल एउन के साथ हस्तक्षेप करने के लिए कहा ताकि उन्हें नई सरकार बनाने में मदद मिल सके। लेबनान के मैरोनाइट के संरक्षक कार्डिनल बेचर राय ने देश को वित्तीय पतन से बचाने के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आह्वान किया है।

हरीरी ने वैटिकन के राज्य सचिव कार्डिनल पिएत्रो पेरोलिन और आर्कबिशप पॉल गैलाघेर के साथ भी मुलाकात की, जो राज्यों के साथ अपने संबंधों के प्रभारी हैं। गुरुवार रात को हरीरी के इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी और विदेश मंत्री लुइगी डि माओ के साथ मुलाकात करने की उम्मीद है।