10 साल बाद तुर्की पहुंची पाकिस्तान की पहली मालगाड़ी, रेलवे ने कर ली लाखों की कमाई

0
971

लगभग एक दशक की रुकावट के बाद पाकिस्तान से पहली मालगाड़ी ईरान के तेहरान के रास्ते तुर्की पहुंच चुकी है। यह मालगाड़ी लाहौर, तफ्तान और जाहेदान होते हुए सोमवार को अंकारा पहुंची। इस मालगाड़ी ने 17 दिनों का सफर महज 13 दिनों में ही पूरा कर लिया। पाकिस्तान से दूसरी ट्रेन भी तुर्की के लिए रवाना हो चुकी है।

डॉन न्यूज की खबर के मुताबिक, देश के रेलवे डायरेक्टर इम्तियाज अहमद ने बताया कि पहली मालगाड़ी 21 दिसंबर को इस्लामाबाद से सामान लेकर रवाना हुई थी। इस ट्रेन में मुख्य रूप से पिंक सॉल्ट यानी सेंधा नमक था और यह सोमवार शाम ही तुर्की के अंकारा पहुंच घई थी। अपने गन्तव्य तक पहुंचने से पहले मालगाड़ी के सामान को ऐसी दूसरी बोगियों में डाला गया जो ईरान और तुर्की के रेलवे ट्रैक के अनुरूप हों। इस ट्रेन में आठ बोगियां थी और इसके जरिए करीब 150 टन पिंक सॉल्ट पाकिस्तान से तुर्की भेजा गया है।

इम्तियाज के मुताबिक, दूसरी ट्रेन 28 दिसंबर को अजाखेल ड्राई पोर्ट से रवाना हुई है। इसके जरिए 525 टन सोपस्टोन तुर्की भेजा जा रहा है। यह ट्रेन भी ईरान में प्रवेश कर चुकी है और जल्द ही जाहेदान पहुंचने वाली है। यहीं पर ट्रेन की बोगियां बदली जाएंगी।

इम्तियाज ने बताया कि पहली ट्रेन को तुर्की भेजकर पाकिस्तानी रेलवे ने 8 लाख पाकिस्तानी रुपये की कमाई की तो वहीं, दूसरी मालवाहक गाड़ी से रेलवे को 22 लाख पाकिस्तानी रुपये की आमदनी हुई है। उन्होंने यह भी बताया कि ईरान को सिर्फ ट्रांजिट कंट्री के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है और पाकिस्तान से लादा गया सारा सामान सिर्फ तुर्की ही ट्रांसपोर्ट किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here