पाम ऑयल पर मलेशिया में बोले इमरान खान – भारत नहीं खरीदेगा तो हम करेंगे नुकसान की भरपाई

इस्लामाबाद:  मलेशियाई पीएम महातिर मोहम्मद और इमरान ख़ान ने मंगलवार को अहम मुलाक़ात के बाद पाम ऑयल के मुद्दे पर कहा कि वह भारत से हुए नुकसान की भरपाई मलेशिया से ज्यादा पाम ऑयल खरीदकर करेगा।

दरअसल, एक पत्रकार ने इमरान ख़ान से सवाल किया कि क्या वो मलेशिया से पाम तेल की ख़रीदारी बढ़ाएंगे? जिस पर इमरान ख़ान ने कहा कि, ”मलेशिया ने कश्मीर में पाकिस्तान का समर्थन किया तो भारत ने धमकी देते हुए मलेशिया से पाम तेल की ख़रीदारी बंद कर दी। हम मलेशिया से पाम तेल का इम्पोर्ट बढ़ाएंगे ताकि मलेशिया को कम से कम नुक़सान हो।”

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और नागरिकता संशोधन कानून पर मलेशिया के द्वारा टिप्पणी के बाद भारत ने मलेशिया से पाम ऑयल के आयात पर सामान्य प्रतिबंध लगा दिया। इसके अलावा भारत ने अनौपचारिक रूप से व्यापारियों को मलेशिया से पाम ऑयल खरीदने से मना कर दिया।

इस वार्ता के बाद प्रधानमंत्री महातिर मुहम्मद ने कहा कि दोनों देशों के बीच पाम ऑयल को लेकर भी चर्चा हुई है जुसमें पाकिस्तान ने संकेत दिया कि वह मलेशिया से अधिक पाम ऑयल खरीदेगा।

मलेशियाई पाम ऑयल काउंसिल के अनुसार, पाकिस्तान ने पिछले साल भारत के 4.4 मिलियन टन की तुलना में मलेशिया से 1.1 मिलियन टन पाम ऑयल खरीदा थी। भारतीय कारोबारियों का कहना है कि अगर दोनों देशों में रिश्ते ठीक नहीं हुए तो 2020 में मलेशिया से भारत का पाम तेल आयात 10 लाख टन से भी नीचे आ जाएगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE