भारत से कपास और चीनी आयात करने पर पाकिस्तान ने लिया यू-टर्न

पाकिस्तान ने गुरुवार को भारत के साथ सीमित व्यापार करने के अपने फैसले पर यू-टर्न ले लिया। दरअसल पाकिस्तान ने भारत से चीनी और कपास के आयात को मंजूरी दी थी।

प्रधान मंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की एक बैठक ने कीमतों को नियंत्रित करने और एक कमी को दूर करने के लिए भारत से चीनी और कपास के आयात की अनुमति देने के लिए बुधवार को एक सरकारी पैनल द्वारा किए गए निर्णय को खारिज कर दिया।

पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद अहमद ने कैबिनेट की बैठक के बाद इस्लामाबाद में संवाददाताओं से कहा कि भारत से आयात की अनुमति देने का कदम “धारा 370 के बहाल होने तक स्थगित” है। उर्दू में बोलते हुए, उन्होंने कहा, “तब तक, [कपास और चीनी का आयात] नहीं होगा।”

बता दें कि 5 अगस्त, 2019 को भारत सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया गया था, और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किया था।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक वीडियो बयान में कहा कि मंत्रिमंडल ने भारत से कपास और चीनी आयात करने के कदम को स्थगित कर दिया ताकि मामले पर आगे विचार-विमर्श हो सके।

भारतीय अधिकारियों से पाकिस्तान सरकार के फैसले पर तत्काल प्रतिक्रिया नहीं मिली। भारत ने पहले यह कहकर कि जम्मू और कश्मीर के परिवर्तनों पर पाकिस्तान का रुख खारिज कर दिया था, यह आंतरिक मामला था।