देखे तस्वीरें: भारत के रास्ते कोरो’ना से नेपाल में बिगड़े हालात, विदेशों से मांगी मदद

भारत के पड़ोसी देश नेपाल में भी कोरोना से हालात बिगड़ गए है। देश में रोजाना एक लाख से अधिक मामले दर्ज किए जा रहे है। अस्पतालों में क्षमता से अधिक मरीज पहुंच रहे हैं। जिससे चिकित्सा व्यवस्था भी चरमरा गई है।

नेपाल सरकार ने विदेशों से मदद मांगना शुरू कर दिया है। नेपाल रेड क्रॉस के प्रमुख डॉ नेत्र प्रसाद तिमसिना ने कहा कि अभी यहां संक्र’मण हर मिनट एक जान ले रहा है। अगर इस रफ्तार को काबू में नहीं किया गया तो हालात बिल्कुल वैसे हो सकते हैं, जैसे अभी भारत में हैं।

31 लाख की आबादी वाले इस देश में अप्रैल मध्य के बाद से मामलों मे उछाल आना शुरू हुआ और बीते दो हफ्तों में दैनिक मामले सात गुना बढ़ गए। नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ समीर अधिकारी ने सोमवार को कहा कि हर रोज स्थिति खराब होती जा रही है और भविष्य में यह काबू से बाहर हो सकती है।

सरकार ने तत्काल सभी घरेलू उड़ानों पर प्रतिबंध का ऐलान कर दिया है। 6 मई के बाद से नेपाल में विदेशों से भी फ्लाइट्स के आने पर पाबंदी होगी। नेपाल में अब संक्र’मितों की तादाद 343,418 हो गई है, जबकि मौ*त का कुल आंकड़ा भी 3,362 तक पहुंच गया है। मंत्रालय के अनुसार 2,021 लोगों के संक्र’मण से उबरने के बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या सोमवार को बढ़कर 286,015 हो गई।

देश में उपचाराधीन रोगियों की कुल संख्या 54,041 है। मंत्रालय ने कहा कि 12 जिलों में पांच-पांच सौ से अधिक उपचाराधीन रोगी हैं जबकि 21 जिलों में रोगियों की संख्या दो-दो सौ से अधिक है।