नेपाल ने दूरदर्शन सहित भारतीय न्‍यूज चैनल पर लगाया प्रतिबंध

नेपाल अपनी भारत विरोधी फैसलो से बाज नहीं आ रहा है। नेपाल ने अब भारतीय न्‍यूज चैनल पर प्रतिबंध लगा दिया। नेपाल के केबल टीवी प्रदाताओं ने गुरुवार को बताया कि देश में दूरदर्शन को छोड़कर सभी भारतीय न्यूज चैनलों के सिग्नल बंद कर दिए गए हैं।

नेपाली केबिल टीवी ऑपरेटरों ने न्‍यूज एजेंसी ANI से कहा कि नेपाल में  भारतीय न्‍यूज चैनलों के प्रसारण को बंद कर दिया गया है। लेकिन इस संबंध में कोई सरकारी आदेश अभी तक नहीं आया है। नेपाल के एक चैनल ऑपरेटर मेगा मैक्स टीवी के ध्रुब शर्मा ने बताया, ‘शाम से हमने भारतीय चैनलों के सिग्नल बंद कर दिए हैं।’

नेपाल के मल्टी सिस्टम ऑपरेटर्स (एमएसओ) ने यह कदम पूर्व उपप्रधानमंत्री और सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) के प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ के उस बयान के कुछ घंटों बाद उठाया, जिसमें उन्होंने कहा कि भारतीय मीडिया को तत्काल नेपाल सरकार और प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के खिलाफ निराधार प्रोपेगेंडा रोक देना चाहिए।

ट्विटर पर श्रेष्ठ ने इस बात पर नाखुशी जताई कि कुछ मीडिया चैनल्स वर्तमान सरकार को बदनाम करने के लिए हद पार कर गए हैं। यह कदम ऐसे समय उठाया गया है जब कुछ भारतीय क्षेत्रों को अपने नए मानचित्र में शामिल करने के बाद से नेपाल और भारत के बीच तनाव की स्थिति है।

बता दें कि कुछ दिनों पहले पीएम आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में पीएम केपी शर्मा ओली ने पार्टी में मचे घमासान को लेकर भारत पर इशारों-इशारों में आरोप लगाते हुए कहा था कि एक दूतावास मेरी सरकार के खिलाफ होटल में साजिश रच रहा है।

ओली ने दावा किया कि उनकी सरकार द्वारा रणनीतिक रूप से तीन प्रमुख भारतीय क्षेत्रों को देश के मानचित्र में शामिल करने के बाद उन्हें पद से हटाने का प्रयास किया जा रहा है। किसी व्यक्ति या देश का नाम लिए बगैर ओली ने दावा किया, मुझे सत्ता से हटाने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन यह सफल नहीं होगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE