नेपाल FM चैनलों पर चला रहा भारत विरोधी गाने, सोशल प्लैटफॉर्म्स पर भी किए शेयर

भारत के तीन इलाकों को अपने विवादित नक्शे में शामिल कर नेपाल अब भारत के खिलाफ अपने एफएम चैनल्स पर भारत विरोधी गानों का प्रसारण कर रहा है। इन गानों के जरिये वह लिपुलेख और कालापानी के इलाकों को भारत से वापस लेने की बात कह रहा हैं।

एनबीटी के अनुसार, उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में टीचर की नौकरी करने वाली बबिता सांवल बताती हैं कि वह रोज अपने स्कूल से लौटते वक्त नेपाल के धारचुला एफएम को सुनती थीं। हाल के दिनों में इस एफएम चैनल पर भारत विरोधी गानों का प्रसारण शुरू हो गया है, जिन्हें हर घंटे कई बार बजाया जाता है। इसे देखते हुए अब उन्होंने इन चैनलों को सुनना बंद कर दिया है।

सांवल ने बताया कि एफएम पर प्रसारित होने वाले गानों में नेपाल की सरकार से उन भारतीय इलाकों को वापस लेने की बात कही जा रही है, जिन्हें हाल ही में नेपाल ने अपने नक्शे का हिस्सा बताया है। इन गानों का प्रसारण धारचुला एफएम समेत कुछ और चैनलों पर हो रहा है, जिसे उत्तराखंड के तमाम पर्वतीय इलाकों में सुना जा सकता है।

भले ही भारत ने इसपर कड़ा विरोध जताया हो, लेकिन इसके बावजूद भी एफएम पर प्रसारित हो रहे गाने नेपाल की नियत को साफ करने को काफी हैं। माना जा रहा है कि इन गानों को हाल के कुछ महीनों में ही रिकॉर्ड कराया गया है और इनमें से कुछ यू-ट्यूब जैसे सोशल प्लैटफॉर्म्स पर भी शेयर किए गए हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE