No menu items!
27.1 C
New Delhi
Monday, September 27, 2021

9/11 के बाद अमेरिका में लाखों लोग बने मुसलमान, उनमें से एक से मिलें

- Advertisement -

संयुक्त राज्य अमेरिका पर 11 सितंबर के ह’मलों का एक जिज्ञासु परिणाम था। जिसने कई अमेरिकियों को पहली बार इस्लाम के बारे में जानने का मौका दिया था, और उन्होंने इस्लाम में परिवर्तित होने का विकल्प चुना।

गैर-सरकारी यू.एस. धर्म जनगणना के अनुसार, 2000-2010 के बीच, यू.एस. में मुस्लिम अनुमानित 1 मिलियन से बढ़कर 2.6 मिलियन हो गए। यानि 37 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जिससे इस्लाम संयुक्त राज्य में सबसे तेजी से बढ़ता हुआ धर्म बन गया।

प्यू रिसर्च के अनुसार, 2017 तक, अमेरिका में मुसलमानों की संख्या 3.45 मिलियन थी। इस वृद्धि के बावजूद, संयुक्त राज्य में मुसलमानों ने 2020 में केवल 1 प्रतिशत अमेरिकी आबादी का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान ईसाइयों की लगभग 70% आबादी थी। जबकि 23% अमेरिकियों ने कहा कि उनक धर्म से कोई सबंध नहीं था या नास्तिक या अज्ञेय के रूप में पहचाने जाते थे।

2020 में अमेरिकी चुनाव को कवर करते हुए, सीजीटीएन ने ओहियो कार्यकर्ता और डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन डेलिगेट सिंथिया कॉक्स उबाल्डो का साक्षात्कार लिया, जो 11 सितंबर के बाद इस्लाम में परिवर्तित हो गए थे।

उबाल्डो ने कहा कि वह इस्लाम की ओर आकर्षित हुई क्योंकि उसने मुस्लिम चरमपं’थियों द्वारा किए गए आतं’कवादी ह’मले पर शोध किया। जैसा कि उसने धर्म के सिद्धांतों के बारे में और अधिक सीखा, उसने महसूस किया कि यह 11 सितंबर के हम’लों में भाग लेने वाले आ’तंकवादियों के विश्वास के विपरीत था।

अपने धर्म परिवर्तन के बाद, उबाल्डो को अपने विश्वासों और पहनावे के लिए भेदभाव और यहाँ तक कि मा’रपीट के कई उदाहरणों का सामना करना पड़ा। 2019 में प्यू रिसर्च द्वारा किए गए सर्वेक्षण में आधे से अधिक अमेरिकी वयस्कों ने महसूस किया कि मुसलमानों के साथ बहुत भे’दभाव किया जाता है, और 82 प्रतिशत ने कहा कि मुसलमानों को कुछ भे’दभाव का सामना करना पड़ा।

न्यू यॉर्क डेली न्यूज के साथ एक साक्षात्कार में, केंटकी विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर एहसान बागबी ने कहा कि भेद’भाव ने केवल मुसलमानों के बीच लचीलापन बनाया है। उन्होंने डेली न्यूज को बताया, “मुझे लगता है कि सार्वजनिक चौक के कुछ हिस्सों में मुस्लिम विरो’धी माहौल ने वास्तव में मुसलमानों को और अधिक धार्मिक बना दिया है।”

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article