दिल्ली हिं’सा के खि’लाफ मलेशिया के मु’स्लिमों में भारी गु’स्सा, जताया तीखा विरो’ध

कुआलालम्पुर: भारत की राजधानी दिल्ली में पिछले दिनों हुए मु’स्लि’म वि’रोधी दं’गो को लेकर मु’स्लिम देशों से तीखी प्रतिक्रिया आ रही है। तुर्की, पाकिस्तान, बांग्लादेश, इंडोनेशिया और अब मलेशिया के मु’स्लिम समुदाय ने इन दं’गों को लेकर तीखा विरो’ध जताया है।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को मलेशिया के सबसे बड़े मुस्लिम यूथ ग्रुप ने नई दिल्ली में हिं’सा को लेकर चिं’ता ज़ाहिर की। Muslim Youth Movement of Malaysia (ABIM) ने नागरिकों की सुरक्षा के लिए भारत सरकार द्वारा स्थिति को संभालने में वि’फल बताया।

महासचिव मोहम्मद फाजिल मोहम्मद सलेह ने कहा, “मु’स्लिम घरों और इबाद’तगाहो को निशाना बनाने वाले धा’र्मिक च’रमपं’थियों के दं’गों को नियंत्रित करने में विफल रहे हैं।” फाजिल ने कहा कि वह आश्चर्यचकित हैं कि बड़े मानव संसाधन और क्षमता वाले एक बड़े देश के रूप में भारत अपने नागरिकों की रक्षा करने में कैसे विफल हो सकता है।

उन्होंने कहा, “भारतीय सुरक्षा बलों के लिए इस र’क्तपात को कमज़ोर होना असंभव है।” फाजिल ने कहा कि एबीआईएम पिछले दिसंबर में भारत द्वारा पारित नागरिकता संशोधन अधिनियम के बारे में चिं’तित था, उसने कहा कि यह स्पष्ट रूप से अन्यायपूर्ण है और आबादी के कुछ हिस्सों पर अत्या’चार करता है।

उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के राजनेताओं ने नफ’रत फैलाई है जिससे स्थिति और खरा’ब हो गई है।ABIM ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया कि वह भारत पर अल्पसंख्यकों के उत्पी’ड़न को रोकने के लिए दबाव डाले। समूह ने मलेशियाई अंतरिम प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद से वैश्विक मुद्दे के बारे में चिं’ताओं को दूर करने का भी आग्रह किया।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE