मलेशिया की फैली राजनीतिक अस्थिरता, सबसे बड़ी पार्टी ने मुहीद्दीन सरकार से लिया समर्थन वापस

मलेशिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी ने गुरुवार तड़के घोषणा की कि वह प्रधान मंत्री मुहीदीन यासीन को दिया अपना समर्थन वापस ले रही है। जिससे देश में राजनीतिक अस्थिरता पैदा हो गई।

पिछले साल फरवरी के अंत में तत्कालीन सत्ता हथियाने के बाद से राजनीति में उतार-चढ़ाव आया है। मुहिद्दीन राजा को समझाने के बाद प्रधान मंत्री बन गए और उन्होने संसद में भी पर्याप्त समर्थन प्राप्त कर लिया। लेकिन वे तब से दबाव में है। वहीं अब बढ़ते COVI’D-19 संकट ने सरकार के संकटों को और बढ़ा दिया।

यूनाइटेड मलेशिया नेशनल ऑर्गनाइजेशन (यूएमएनओ) के अध्यक्ष जाहिद हमीदी ने कहा कि पार्टी ने महामारी से निपटने में अपनी विफलता के कारण प्रधान मंत्री के लिए अपना समर्थन वापस लेने का फैसला किया है।

समर्थन वापस लेने वाली UMNO गठबंधन में सबसे बड़ी घटक पार्टी है और मई 2018 में पहली बार सत्ता गंवाने से पहले वर्षों तक मलेशियाई राजनीति पर हावी रही। हाल ही में मुहिद्दीन ने दो यूएमएनओ नेताओं को शीर्ष पदों पर पदोन्नत किया था। साथ ही उप प्रधान मंत्री का पद भी दिया था।

राजनीतिक विश्लेषकों ने कहा कि यूएमएनओ के इस कदम से मुहीद्दीन की सरकार के पतन की संभावना नहीं है क्योंकि यूएमएनओ ने पहले कहा है कि वह विपक्षी नेता अनवर इब्राहिम या डेमोक्रेटिक एक्शन पार्टी (डीएपी) के साथ सहयोग नहीं करेगा।